कांग्रेस के आरोप पर बोले गोविन्द सिंह राजपूत- राम हमारे आराध्य, कांग्रेस के पेट में दर्द क्यों

वहीं पारुल साहू पर बयान देते हुए गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि पारुल साहू मेरे लिए कोई बड़ी चुनौती नहीं है

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश(madhyapradesh) में उपचुनाव(by-election) की तारीखों की घोषणा जल्दी होने वाली है। तारीखों के ऐलान से पूर्व प्रदेश में सियासी हलचल तेज हो गई है। अपने अपने भाषणों एवं घोषणाओं से नेता एक बार फिर जनता को साधने की कोशिश में लगे हुए हैं। इसी बीच बीते दिनों वायरल(viral) हुई एक वीडियो पर सफाई देते हुए अब गोविंद सिंह राजपूत(Govind Singh Rajput) ने कांग्रेस को घेरा है। राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने अपने बयान में कहा है कि भगवान राम हमारे आराध्य हैं। हमने चोरी-छिपे कोई कार्य नहीं किया है। अगर हम अपने आराध्य की शिला यात्रा निकाल रहे हैं तो इससे कांग्रेस(congress) के पेट में क्यों दर्द हो रहा है।

दरअसल राजस्व मंत्री और बीजेपी नेता गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि उन्होंने अकेले रामशिला यात्रा नहीं निकाली है, बीजेपी(BJP) ने 300 गांव में यात्रा निकाली है और वही शिला लेकर वो अयोध्या भी जाएंगे। इसलिए कांग्रेस का आरोप ही निराधार है।वहीं दूसरी तरफ बीजेपी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुई पारुल साहू पर बयान देते हुए गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि पारुल साहू(Parul Sahu) मेरे लिए कोई बड़ी चुनौती नहीं है। कांग्रेस को अपनी 27 सीटों को संभालना चाहिए। वह सुरखी विधानसभा क्षेत्र की चिंता ना करें। ज्ञात हो कि पारुल साहू कांग्रेस के टिकट पर सुरखी से चुनाव लड़ेंगी।

बता दे कि पिछले दिनों सुरखी विधानसभा में एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा था। जिसमें गोविंद सिंह राजपूत के समर्थक नरेंद्र डब्बू द्वारा ग्रामीण इलाकों में पहुंचकर एक बुजुर्ग महिला को राधा कृष्ण की पोस्टर दिखा कर कहते सुना जा रहा था कि गोविंद सिंह राजपूत चुनाव लड़ रहे हैं और अगर आप इस फूल को वोट देंगे तो आपके नाम का 1 ईंट मंदिर निर्माण में लगेगा। जिस पर कांग्रेस ने आपत्ति जताते हुए चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया था। वहीं कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी कि राम के नाम पर बीजेपी वोट मांगने का काम कर रही है। जिस पर अब गोविंद सिंह राजपूत ने बयान दिया है।