Gwalior News : कांग्रेस विधायक पर मामला दर्ज, BJP नेता पर भी FIR, ये है पूरा मामला

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर पुलिस ने जमीनों पर कब्जे के मामले में दो नेताओं पर FIR दर्ज की है। एक FIR महाराजपुरा थाने में मुरैना जिले के कांग्रेस विधायक (Congress MLA) के खिलाफ और दूसरी FIR मुरार थाने में जिला पंचायत अध्यक्ष के पति भाजपा नेता (BJP Leader) के खिलाफ की गई।

इटावा उत्तरप्रदेश (Etawah UP) के पंचायती राज विभाग में बतौर सलाहकार पदस्थ मनोज यादव ग्वालियर के साकेत नगर में रहते हैं। उनकी पत्नी भी उत्तरप्रदेश के बरेली में मत्स्य विभाग में उपनिदेशक है। इनकी मुरार थाना क्षेत्र में बड़ा गाँव में हाइवे के पास एक बीघा जमीन है। उत्तरप्रदेश में नौकरी के चलते ये जमीन की देखभाल कम कर पाते है। मनोज ने मुरार पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है कि ग्वालियर जिला पंचायत अध्यक्ष मनीषा सिंह Gwalior Zila Panchayat Adhyaksh Manisha Singh) के पति भाजपा नेता भुजबल सिंह यादव (BJP Leader Bhujbal Singh Yadav) ने अपने साथियों के साथ मिलकर उनकी जमीन पर कब्जा कर उसे बेच दिया। मनोज ने कहा कि जब उन्हें जमीन बेचे जाने की खबर लगी तो उन्होंने पता किया तो मालूम चला कि झूठे नक्शे बनवाकर भाजपा नेता ने जमीन बेच दी। उन्होंने भाजपा नेता भुजबल सिंह (BJP Leader Bhujbal Singh Yadav) से अपनी जमीन की बात की तो उन्होंने धमकी दी और कहा जमीन तो बेच दी, तुम्हारे हिस्से के पैसे तुम्हें मिल जायेंगे। मनोज ने पूरे मामले में RI और पटवारी की भूमिका को भी संदिग्ध मानते हुए कलेक्टर से भी शिकायत की।

मनोज यादव की शिकायत के बाद पुलिस ने जांच की उसके बाद ग्राम खुरेरी हल्का नंबर 113 के पटवारी गौरव चौहान ने अपर तहसीलदार के आदेश पर मुरार थाने में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने भाजपा नेता भुजबल सिंह यादव और उनके साथियो के खिलाफ धारा b420, 447, 506 और 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

वहीं एक अन्य मामले में महाराजपुरा थाना पुलिस ने मुरैना जिले के सुमावली के कांग्रेस विधायक अजब सिंह कुशवाह के खिलाफ FIR दर्ज की है। कांग्रेस विधायक अजब सिंह कुशवाह (Congress MLA Ajab Singh Kushwah) पर सरकारी जमीन पर कब्जा कर प्लॉट काटकर बेचने के आरोप हैं। ग्राम विक्रमपुर के पटवारी हरिमोहन सिंह राजपूत ने पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई कि कांग्रेस विधायक अजब सिंह कुशवाह (Congress MLA Ajab Singh Kushwah)  ने शासकीय जमीन पर कब्जा किया और उसपर प्लॉट काटकर बेच दिये। पुलिस ने अलग अलग धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।