गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान, MP में ऑनलाइन गेमिंग एक्ट की तैयारी

गृहमंत्री मिश्रा ने कहा कि इसके लिए ड्राफ्ट लगभग तैयार किया जा चुका है।

नरोत्तम मिश्रा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। बच्चों में आए दिन ऑनलाइन गेमिंग (Online gaming) का क्रेज बढ़ता ही जा रहा है। ऑनलाइन गेम के शौकीन बच्चे तेजी से इसका शिकार हो रहे हैं। राजधानी भोपाल में बीते दिनों फ्री फायर गेम (Free fire game) खेलने के चक्कर में एक बच्चे ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। वही ऑनलाइन गेम का तेजी से शिकार हो रहे बच्चों के बीच अब प्रदेश सरकार ने नई तैयारी शुरू की है। मामले में प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) का बड़ा बयान सामने आया है।

दरअसल मध्यप्रदेश में जल्द ही ऑनलाइन गेम पर Act (Online gaming act) लाया जाएगा। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि बीते दिनों राजधानी भोपाल में घटित घटना बेहद दुखद है। यह एक गंभीर प्रश्न भी है। फ्री फायर गेम की वजह से तेजी से बच्चे इसकी ओर आकर्षित हो रहे हैं। अब ऐसे गेम पर लगाम लगाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार एक ऑनलाइन गेमिंग एक्ट लेकर आ रही है। गृहमंत्री मिश्रा ने कहा कि इसके लिए ड्राफ्ट लगभग तैयार किया जा चुका है। वहीं मध्यप्रदेश में जल्द ही इसे मूर्त रूप दिया जाएगा।

ज्ञात हो कि ऑनलाइन शो के कारण बच्चे ने अपनी जान ले ली है। बच्चे ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी उसके पास से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। बच्चा अवधपुरी के सेंट जेवियर स्कूल में पढ़ने वाला पांचवी का छात्र है। बच्चे का नाम सूर्यांश बताया जा रहा है।

Read More : नए साल में कर्मचारियों को मिलेगा का बड़ा तोहफा, सैलरी में होगा 49,420 रुपए तक का इजाफा!

बुधवार दोपहर सूर्यांश बॉक्सिंग के फंदे पर लटक कर जान दी है। हालांकि परिजनों से तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया परिजनों का कहना है कि वह मोबाइल में फ्री फायर गेम खेला करता था और उसे गेम वाले सीरियल देखने की बेहद आदत पड़ गई थी। पुलिस इस मामले में पड़ताल कर रही है।

ज्ञात हो कि ऐसा पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी फ्री फायर गेम की वजह से कई बच्चे अपनी जान गंवा चुके हैं। फ्री फायर एक सर्वाइवल शूटर और बैटल गेम है। वहीं इसकी आकर्षक लेआउट से बचे तेजी से इसकी और आकर्षित होते हैं और जल्द ही बच्चों में ऑनलाइन गेम की लत लग जाती है।