दंपति ने थाने में खाई चूहामार दवाई, अस्पताल में भर्ती, ये है मामला

गुना, विजय कुमार जोगी। शहर के बूढ़ेबालाजी क्षेत्र में शुक्रवार को मारपीट का मामला सामने आया है। पडौसी से पिटने के बाद षिकायत करने गए दम्पति की सुनवाई नहीं हुई तो दोनों ने अजाक थाने में जहर (चूहामार) खा लिया। पुलिस ने दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उनकी हालात सामान्य बताई जा रही है।

पीड़ित दम्पति षिवलाल कोरी (45) और मंगलेष कोरी (40) निवासी बूढ़ेबालाजी के बेटे दीपक कोरी (18) ने बताया कि माता-पिता और भाई के साथ पड़ौसी ने शुक्रवार को सुबह मारपीट की। इसकी षिकायत करने के लिए कोतवाली गए, लेकिन वहां कोई सुनवाई नहीं हुई और हमें अजाक थाने भेज दिया। अजाक थाने से फिर कोतवाली भेज दिया। दो घंटे से बैठाए हुए हैं। कोई कार्रवाई नहीं की जा रही थी। इसके बाद माता-पिता ने जहर खा लिया। वे जहर कहां से लाए, किसने उनका दिया। इसकी कोई जानकारी नहीं है।

जहर खाकर थाना प्रभारी के कक्ष के आगे गिर गए दम्पति

शुक्रवार को दोपहर से पीड़ित दम्पति अपनी षिकायल लेकर बैठा था, लेकिन जब उसकी सुनवाई नहीं हुई तो उन्होंने चूहामार दवा खाली। दोनों दवा खाने के बाद अजाक थाना प्रभारी आरपी वर्मा के कक्ष के सामने गिर गए। यह नजारा देख पुलिस खुद सख्ते में आ गई। पुलिस स्टाफ ने दोनों को उठाकर अपनी गाड़ी में रखा और अस्पताल पहुंचाया। जहां दोनों का इलाज आरंभ हो गया है।

दो थानोें के बीच चक्कर लगाता रहा पीड़ित

बताया जाता है कि मारपीट की घटना के बाद पीड़ित परिवार पुलिस से षिकायत करने पहुंचा था, लेकिन किसी ने कोई ध्यान नहीं दिया। कोतवाली पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। इसके बाद उसे अजाक थाने भेज दिया। यहां भी पुलिस को वही सुस्त रवैया रहा। इससे नाखुष होकर पीड़ित ने जहर खा लिया। सुनवाई नहीं होने से पीड़ित पक्ष में नाराजगी है।

पुलिस की लापरवाहीः जगनपुर के बाद दूसरा मामला

जगनपुर में अतिक्रमण हटाने को लेकर किसान दम्पति ने जहर खा लिया था। ये मामला अभी कुछ हद तक शांत ही हुआ था कि शुक्रवार को ये दूसरा मामला सामने आ गया है, जहां दम्पति ने जहर खा लिया। थानों में लोगों की सुनवाई नहीं होने से इस तरह की स्थिति सामने आ रही है। ऐसे पुलिस पर भी कई बार गंभीर आरोप लगते हैं। इसके बाद भी थानों से लेकर वरिष्ठ अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे। उल्लेखनीय है कि कोतवाली में ही इस साल 335 ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें अदमचैक काटी गई है और 719 मामले दर्ज किए हैं। कई मामले तो साधारण आवेदनों तक सिमटकर रह गए हैं।

इनका कहना है

एक मारपीट के विवाद में दम्पति ने जहर खा लिया है। पीड़ित का कहना है कि उनकी कोतवाली में सुनवाई नहीं हुई है। मामले में एफआईआर करवाई जा रही है। डाक्टर से जानकारी ली है, दोनों की स्थिति सामान्य है।

-राजेश कुमार सिंह, एसपी गुना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here