Illegal Mining: अवैध खनन रोकने गई टीम पर पथराव, मामला दर्ज

इंदौर।

मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ रहे अवैध खनन को रोकने के लिए सरकार और प्रशासन द्वारा कार्य जारी हैं इसी बीच जब शुक्रवार को खनिज विभाग को ग्राम कैलोद करताल में कुछ लोगों के अवैध खनन की सुचना मिली तो वो उस जगह पर पहुंचे। टीम वहां से 2 पोकलेन और एक डंपर जब्त कर लाने लगी। जिसके बाद खनिज विभाग और आरोपियों में बहस छिड़ गयी और उन्होंने पुलिस वाहन पर पथराव शुरू कर दिया। सूचना मिलते ही वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया।

दरअसल शुक्रवार दोपहर खनिज विभाग को सूचना मिली थी कि ग्राम कैलोद करताल में कुछ लोग अवैध खनन कर रहे हैं। विभाग ने इसकी पुष्टि करवाई तो सूचना सही निकली। जिसके बाद खनिज निरीक्षक आलोक अग्रवाल अपनी टीम और तेजाजी नगर थाना पुलिस को लेकर मौके पर पहुंचे। टीम वहां से 2 पोकलेन और एक डंपर जब्त कर लाने लगी। तभी कुणाल पटवारी और चेतन पटवारी अपने साथियों के साथ वहां पहुंच गए। पुलिस के मुताबिक आरोपित जब्त वाहनों को छुड़वाने का प्रयास कर रहे थे। जिस बीच तोड़ फोड़ की गयी जिसमें पथराव में तेजाजी नगर पुलिस थाने के वाहन के कांच फूट गए। वहीँ विवाद करने वालों में दो युवक पूर्व मंत्री और राऊ विधायक जीतू पटवारी के रिश्तेदार बताए जा रहे हैं। जबकि पूर्व मंत्री ने दोनों युवकों से परिचय होने से इन्कार किया है। पूर्व मंत्री व राऊ विधायक जीतू पटवारी ने आरोपियों के साथ अपनी संलिप्तता पर कहा है कि उनका इन लोगों से कोई लेना-देना नहीं है। सरनेम समान होने की वजह से बार-बार मेरा नाम ऐसे विवादों में घसीटा जाता है। उन्होने कहा है कि न वे युवक उनके परिवार के हैं और न ही कोई परिचय है। पुलिस को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।

इधर पुलिस ने दोनों युवकों और उनके साथियों के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा डालने का प्रकरण दर्ज किया है। उधर देर रात शासन ने खनिज अधिकारी का तबादला कर दिया।