शिवराज कैबिनेट की अहम बैठक संपन्न, अनुकंपा नियुक्ति सहित इन प्रस्तावों को मिली मंजूरी

बैठक में कोरोना अनुकंपा नियुक्ति योजना (Compassionate Appointment Scheme) लागू की गई है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) द्वारा शिवराज कैबिनेट (shivraj cabinet) की बैठक आयोजित की गई। इस दौरान मध्यप्रदेश में घट रहे कोरोना केसों (corona cases) पर होने वाली चर्चा के साथ-साथ प्रदेश को 1 जून से अनलॉक (unlock) करने पर भी सहमति बनी है।

बैठक में कैबिनेट मंत्रियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि वर्तमान में 2424 पॉजिटिव केस (positive case) सामने आए हैं जबकि स्वस्थ होकर जाने वाली मरीजों की संख्या 7373 थी। 15 जिलों में कोरोना के 10 से कम आ रहे हैं। इसके साथ ही बैठक में कोरोना अनुकंपा नियुक्ति योजना (Compassionate Appointment Scheme) लागू की गई है। साथ ही महिलाओं के हित में बड़े फैसले लिए गए हैं।

वैक्सीन का ग्लोबल टेंडर तय किया जाएगा

बैठक की ब्रीफिंग करते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) ने कहा कि मध्यप्रदेश में वैक्सीन की आवश्यकता और डिमांड को देखते हुए तय किया है कि इसका ग्लोबल टेंडर किया जाएगा। मुख्यमंत्री जी ने स्वास्थ्य विभाग को इसका आदेश दिया है। मध्यप्रदेश एक मात्र ऐसा राज्य है जिसे मुख्यमंत्री कोविड 19 अनुकंपा नियुक्ति योजना लागू की है।

महिलाओं के हित में लिए बड़े फैसले

नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) ने कहा कि हमारा ईमान महिला का सम्मान, इसके लिए हमने 50 पर्यटन स्थल ऐसे चयन किए हैं।  जो महिलाओं की सुरक्षा दृष्टि से उचित होंगे। यहां हम 10 हजार महिलाओं को प्रशिक्षित करेंगे। विशेषज्ञों के पदों को 25% पद सीधी भर्ती और 75% पद पदोननति से भरने को आज स्वीकृति प्रदान की है।

किसानों के लिए बड़ा फैसला

शिवराज सरकार (shivraj government) ने किसानों (farmers) के लिए बड़ा फैसला लेते हुए कहा कि हमारी सरकार किसानों के लिए 24 घंटे तत्पर रहती है। चना मसूर सरसों में इस बार उन्हें पिछली साल से 10 हजार करोड़ ज्यादा, बाजार कीमत से ज्यादा लागत ​मूल्य की बढ़कर मिली है। उसका फायदा कराने की सरकार ने कोशिश की है।

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पॉजिटिविटी रेट भी कम हो गई है। वैक्सीनेशन के लिए भी अलग से समिति बनेगी जिसे हमें ग्लोबल टेंडर करना है। जैसे हमने मंत्रिमंडल की समिति द्वारा ऑक्सीजन सिटी स्कैन की उपलब्धता से एक मॉडल प्रदेश बनकर उभरे। ऐसी 5 समितियां मप्र में मंत्रियों की बनने वाली हैं।

Read More: 70% एफिकेसी ‘एंटीबॉडी कॉकटेल’ की भारत में दस्तक, टल जाता है हॉस्पिटल जाने का खतरा

टेस्टिंग चलती रहेगी, कोविड केयर सेंटर चलते रहेंगे- सीएम शिवराज 

सीएम शिवराज ने कहा कि मुझे ये कहते हुए संतोष है रिकवरी रेट लगातार बढ़ रही है। आगर-मालवा, भिंड में एक-एक ही पॉजिटिव केस आए हैं।पॉजिटिविटी भी आप देखें तो कम रही है ये हमारी बड़ी उपलब्धि है। सीएम शिवराज ने कहा इसके लिए मैं प्रदेश की जनता को धन्यवाद देता हूं 1 जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू करना है। टेस्टिंग चलती रहेगी, कोविड केयर सेंटर चलते रहेंगे। इसमें कोई पॉजिटिव है तो उसका भी इलाज होता रहेगा।

अनलॉक पर बोले सीएम शिवराज

अनलॉक पर बोलते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि तीसरी लहर को रोकना है तो अनलॉक करने के बाद हमारा व्यवहार कैसा रहता है। अगर आयोजन शुरू हो गए तो वह फिर बढ़ जाएगा। कोरोना के संक्रमण को रोकने वाला व्यवहार-मतलब मास्क, दूरी, हाथ साफ करना। कोविड के अनुरूप व्यवहार क्या-क्या हो ये हमें तय करना पड़ेगा। ये दो चीजें हमने कर लीं- एक टेस्ट किए, पहचाना इलाज किया तो तेजी से नहीं बढ़ेंगे। इसमें समाज का सहयोग लगेगा। इसके लिए हमको जुटना पड़ेगा। इसको हमको मिलकर करना पड़ेगा।

बनाएंगे अनलॉक की प्रक्रिया निर्धारण करने वाली मंत्रियों की टीम- शिवराज 

सीएम शिवराज ने कहा कि अनलॉक की प्रक्रिया का निर्धारण करने वाली मंत्रियों की टीम बनाएंगे। वैक्सीनेशन की समिति, लोगों को जागरूक करने की समिति, अस्पतालों की उपलब्धता और प्रबंधन कराने वाली समिति, ऑक्सीजन की उपलब्धता के संबंध में समिति। ये 5 समिति हम बनाएंगे। हम सब पूरी तरह से इसमें इन्वॉल्व रहें।

शिवराज ने निर्देश देते हुए कहा कि जिन जिलों के आप प्रभारी हैं उनसे बात करें। गांव वाली कमेटी भी तय करे कहां खोलो। आपके प्रभार के जिलों में देखें। हर एक गांव की बैठक होना चाहिए वो तय करे हम ऐसे खोलेंगे और बाद में ऐसे व्यवहार करेंगे। आगामी विभिन्न गतिविधियों के निर्धारण के लिए मंत्री परिषद के सदस्यों की 5 समितियां बनाई जायेंगी। यह समितियां टीकाकरण, कोविड अनुकूल व्यवहार, जन जागरण, अस्पताल प्रबंधन, ऑक्सीजन व अन्य आवश्यक सामग्री की व्यवस्था आदि के संबंध संबंध में समन्वय और प्रबंधन करेंगी।

हमारे पास प्रक्रिया निर्धारित करने 4-5 दिन- सीएम 

सीएम शिवराज ने कहा कि हमारे पास प्रक्रिया निर्धारित करने 4-5 दिन हैं। उसके हिसाब से प्रदेश को अनलॉक की दिशा में ले जाएंगे। पूरी जनता मिलकर तय करेगी आगे हमें कैसे व्यवहार करना है। अब हम कोशिश ये करें कि दोनों चीजें चलें। इस ढंग से चलें कि वैक्सीनेशन का काम भी प्रभावित ना हो पाए।