इंदौर संभाग में कमिश्नर के निर्देश, जिस तरह से चुनाव संपन्न होते है उसी तर्ज पर कराया जाए वैक्सीनेशन

संभागायुक्त इंदौर ने बताया कि सबसे पहले वैक्सीन आने पर तत्काल उसे संभागीय स्टोर में रखा जाएगा और इसके तुरंत बाद कोल्ड वैन्स के जरिये संभागीय स्टोर से वैक्सीन जिला स्टोर पर भेजी जाएगी।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। देशभर के कई शहरों में आज कोरोना वैक्सीन की पहली खेप पहुंचाई जा रही है। इंदौर में भी कोरोना टीके की पहली खेप बुधवार को पहुंच सकती है। भोपाल से वैक्सीन की सप्लाई इंदौर के लिए की जाएगी। इधर, प्रशासनिक स्तर पर वैक्सीन रखने की तैयारी पूरी कर ली गई है और हो सकता है कि 16 जनवरी से टीकाकरण शुरू किया जा सके। बताया जा रहा है कि मध्य प्रदेश में वैक्सीन के 5 लाख डोज की पहली खेप बुधवार को ही भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर पहुंचना शुरू हो जाएगी। यहां से 24 घंटे में वैक्सीन प्रदेश के अन्य जिलों में पहुंचा दी जाएगी।

वैक्सीन कि कोल्ड चैन के सिस्टम को ध्यान में रखते हुए इंदौर संभाग के अंतर्गत आने वाले सभी जिलों के कलेक्टर से संभागायुक्त पवन शर्मा ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। कांफ्रेसिंग के दौरान कलेक्टरो को संभागायुक्त ने कहा कि जिस तरह से एक जिले में चुनाव को कलेक्टर द्वारा लीड किया जाता है उसी तरह से ऐतिहासिक वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को सम्पन्न कराने के लिए हर कलेक्टर स्वयं जिम्मेदारी के साथ तैयार रहे। । संभागायुक्त डॉक्टर शर्मा ने सभी कलेक्टर्स से कहा कि वे अपने ज़िलों में इस बड़ी चुनौती का उत्तर दायित्व निभाने के लिए लीडर बनें।

बता दे कि  इंदौर संभाग में कोविड वैक्सीनेशन की तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। संभागायुक्त डॉक्टर पवन शर्मा ने संभाग के सभी ज़िलों के कलेक्टरों से चर्चा कर तैयारियों की जानकारी ली। उम्मीद की जा रही है कि आज दोपहर बाद इंदौर एयरपोर्ट में खुशियों की खेप लेकर विमान उतरेगा। जिसमे इंदौर और उज्जैन संभाग में होने वाले टीकाकरण अभियान के लिए ज़रूरी संख्या में वैक्सीन की खेप आएगी।

संभागायुक्त इंदौर ने बताया कि सबसे पहले वैक्सीन आने पर तत्काल उसे संभागीय स्टोर में रखा जाएगा और इसके तुरंत बाद कोल्ड वैन्स के जरिये संभागीय स्टोर से वैक्सीन जिला स्टोर पर भेजी जाएगी। वही जिला स्टोर से 15 जनवरी को वैक्सीनेशन के फोकल पाइंट पर वैक्सीन भेजी जाएगी वही इसके बाद वैक्सीन 16 जनवरी की सुबह वैक्सीनेशन सेंटर्स पर पहुंचाई जाएगी ताकि पूरी कोल्ड चैन परफेक्टली मैनेज हो सके।