फिर सामने आई निर्दलीय ‘शेरा’ की नाराजगी

Burhanpur-MLA-shera-bhaiyya-statement-on-government-

भोपाल।
प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बने हुए एक साल से ज्यादा का समय बीत गया हो लेकिन आए दिन नेताओं की नाराजगी पार्टी के लिए सबब बनी हुई है। कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के बाद मंत्री ना बनाए जाने से खफा चल रहे है निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा की एक बार फिर नाराजगी सामने आई ।शेरा ने निगम मंडलों में नियुक्तियां और मंत्रिमंडल के विस्तार ना होने को लेकर नाराजगी जताई है।

आज मीडिया से चर्चा के दौरान सुरेंद्र सिंह शेरा ने कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में निराशा हो रही है और उनकी उम्मीदों पर पानी फिर रहा है प्रदेश में ब्यूरोक्रेसी पूरी तरह हावी हो रही है।जल्द से जल्द निगम मंडल में नियुक्तियां होनी चाहिए और मंत्रिमंडल का विस्तार भी।इन दोनों मामलों में लगातार देरी के चलते शेरा भी अपनी ही सरकार से नाराज हो रहे है। है और कब शेरा इसमें शामिल होते हैं।यह पहला मौका नही है इससे पहले भी शेरा पार्टी को अपने तीखे तेवर दिखा चुके है। बीते दिनों ही उन्होंने अपनी सरकार को घेरा था और समर्थन वापस लेने तक की धमकी दे डाली थी, इसके बाद मुख्यमंत्री से उन्होंने मुलाकात की थी और उन्हें आश्वासन मिला था कि मंत्री बनाया जाएगा, लेकिन अबतक इस पर कोई एक्शन नही लिया गया है, जिसके चलते बार बार शेरा की नाराजगी मीडिया के सामने झलक रही है।

बता दे कि राज्य में कांग्रेस के पास 114 विधायकों का समर्थन है। इसमें बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 2 विधायकों, समाजवादी पार्टी (सपा) के 1 और 4 निर्दलीय विधायकों का समर्थन है। नाथ ने उनमें से कई को लोकसभा चुनाव के बाद कैबिनेट में शामिल होने का आश्वासन दिया था,लेकिन अबतक नही किया गया।शेरा के अलावा कई कांग्रेस विधायक भी मंत्रिमंडल विस्तार का इंतजार कर रहे हैं।देरी के चलते विधायकों में सरकार के प्रति नाराजगी बढ़ने लगी है।शेरा उन निर्दलीय विधायकों में से हैं जिन्होंने कमलनाथ सरकार को चुनाव होते ही सबसे पहले समर्थन दिया था और यह माना जा रहा था कि उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल किया जाएगा, लेकिन अबतक उन्हें निराशा ही हाथ लगी है, इसको लेकर कई बार वे नाराजगी भी जाहिर कर चुकी है।