Indore Coronavirus: छूट मिलते ही हुआ बड़ा विस्फोट, 112 की रिपोर्ट पॉजिटिव

इंदौर, आकाश धोलपुरे।

बीते 3 दिनों की कोविड रिपोर्ट ने जहां शहरवासियो को मामूली राहत दी थी लेकिन उस राहत के बाद गुरुवार को एक बार फिर अचानक फिर से इदौर में फिर से कोरोना विस्फोट हो गया है और इसी का परिणाम है कि एक बार फिर कोविड संक्रमितों का आंकड़ा 100 के पार चला गया है। गुरुवार वायरस के संक्रमण ने शतक लगाते हुए कुल 112 लोगो को संक्रमण ने अपनी चपेट में ले लिया है।

गुरुवार रात को इंदौर में जारी किए गए मेडिकल बुलेटिन के हिसाब से 112 संक्रमित मरीजो के साथ अब तक कोरोना से संक्रमण के कुल मामले 7328 तक पहुंच गए है। इधर, गुरुवार को कोविड ने 1 व्यक्ति की जीवन लीला समाप्त कर दी और शुरुआत से लेकर अब तक इंदौर में कोरोना संक्रमित 311 लोगो की मौत हो चुकी है।

कोरोना को हराने वालो की संख्या 5 हजार पार
इंदौर में भले कोरोना को लेकर आंकड़े अपनी गम्भीरता पेश कर रहे है लेकिन इन्ही आंकड़ो में से हर रोज निकलने वाली कुछ संख्या एक तरह से राहत दे रही है। गुरुवार को कोविड को मात देकर 44 लौट स्वस्थ होकर घर लौटे तो डिस्चार्ज किये जाने वाले मरीजो का आंकड़ा 5 हजार के पार चला गया याने इंदौर में अब तक रिकवर होने वाले लोगो की संख्या 5036 तक जा पहुंची है। कुल पॉजीटिव लोगो से डिस्चार्ज किये गए स्वस्थ लोगो का आंकड़ा करीब 69 फीसद तक पहुंच गया है। याने हर 100 संक्रमितों में 69 लोगो की जान बचाई जा रही है वही डेथ रेट 4 प्रतिशत से ऊपर है जिसका सीधा मतलब है कि प्रति 100 व्यक्ति में से 4 से अधिक लोगो की मौत कोरोना कारण जा रही है। वही बाकि बचे लोगो का इलाज कोविड अस्पतालों में जारी है। फिलहाल, इंदौर में 1981 एक्टिव केस है जिनका इलाज जारी है और उम्मीद की जा रही है कि इनमें से अधिकतर लोग कोरोना की जंग में जीतकर अपने घर लौटेंगे।

खुले बाजार उमड़ी भीड़, निगम का रोको टोको अभियान जारी
कोविड के जानलेवा प्रहार के बीच इंदौर को 30 जुलाई से 4 अगस्त कुल 6 दिन के लिए खोला गया है। ऐसे में गुरुवार को मध्यक्षेत्र के बाजारों में लोगो की भीड़ देखने को मिली। महिलाये ईद और रक्षाबंधन की खरीदी करने के लिए बाजार में दिखाई दी। इसके साथ ही कोविड को लेकर सतर्क निगम प्रशासन द्वारा शहरभर के मुख्य बाजारो में रोको टोको अभियान के 50 ई – रिक्शाओं के माध्यम से बचाव के लिए विशेष सतर्कता संदेश अनाउंसमेंट के जरिये दिए जा रहे है। इधर, इंदौर में अभी भी इस रविवार को लॉक डाउन के लेकर संशय बरकरार है। हालांकि बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि रविवार का लॉक डाउन किसी अन्य दिन लगा दिया जाए ताकि राखी के एक दिन पहले आने वाले रविवार को बहने खरीदी कर सके। वही इंदौर कलेक्टर ने ये साफ कर दिया है कि शासन के निर्देशों के मुताबिक रविवार का लॉक डाउन जारी रहेगा।