Indore शराब गैंगवार: पुलिस ने दो आरोपियों को भोपाल बायपास से किया गिरफ्तार, मामले पर गृहमंत्री ने कही ये बड़ी बातें

पूरे मामले में गैंगस्टर सतीश भाऊ और चिंटू ठाकुर पुलिस गिरफ्त में हैं, वहीं फरार आरोपी हेमू ठाकुर की तलाश जारी है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश के बहुचर्चित इंदौर गोलीकांड के मामले में आज इंदौर पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। इंदौर एसपी पश्चिम आशुतोष बागरी ने बताया सोमवार को विजय नगर थाना क्षेत्र के सिंडिकेट ऑफिस में शराब कारोबारियों के बीच हुए विवाद में गोली चली थी। जिसके बाद पुलिस ने गैंगस्टर सतीश भाऊ और चिंटू ठाकुर को भोपाल बायपास से गिरफ्तार कर लिया है। मामले में सोशल मीडिया पर दोनों आरोपियों के सरेंडर की बात को इंदौर पुलिस ने सिरे से नकार दिया है। वहीं इस पूरी घटना में तीसरा नामजद आरोपी हेमू ठाकुर अभी भी फरार है। वहीं इस पूर मामले पर प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा इस मामले में आरोपी पकड़े गए हैं, बाकी भी पकड़े जाएंगे। जो बड़े-बड़े माफिया सोच रहे हैं कि वो पकड़े नहीं जाएंगे तो ऐसा नहीं है। कानून के हाथ उन तक भी पहुंचेंगे, पुलिस की नज़र से कोई नहीं बचेगा।

ये भी पढ़ें- राज कुंद्रा के समर्थन में सामने आईं मॉडल गहना वशिष्ठ, कहा- “पॉर्न और एरॉटिका में फर्क होता है”

दरअसल, सोमवार को इंदौर के विजय नगर थाना क्षेत्र में स्थित शराब कारोबारियों के सिंडिकेट ऑफिस में शराब कारोबारी अर्जुन ठाकुर को गोली मार दी गई थी। यह मामला दोपहर के लगभग 3:30 बजे के आसपास घटित हुई, जिसके बाद पुलिस द्वारा तत्काल ही घायल अर्जुन ठाकुर को इलाज के लिये निजी अस्पताल ले जाया गया था। वहीं मौके पर तीनों नामजद आरोपी मौके से भाग खड़े हुए थे जिसका पुलिस टीम ने उनका पीछा भी किया था।

ये भी पढ़ें- Gold Silver Rate : सोना हुआ महंगा, चांदी सस्ती , खरीदने से पहले जान लें आज का भाव

मामले पर एसपी पश्चिम इंदौर आशुतोष बागरी ने बताया कि घटना के बाद सिंडिकेट दफ्तर में तोड़फोड़ मचाने वाले 5 आरोपियों को भी पुलिस ने राउंड अप किया है। आरोपी सतीश भाऊ, चिंटू ठाकुर और हेमू ठाकुर की तलाश में दो दिन पुलिस ने देवास, उज्जैन और जयपुर में भी सर्चिंग की और आख़िरकार आरोपी सतीश भाऊ और चिंटू ठाकुर को पुलिस ने भोपाल बायपास से गिरफ्तार कर लिया। इंदौर पुलिस के मुताबिक आरोपी नेपाल भागने की फिराक में थे। वहीं पुलिस अब गिरफ्त में आरोपियों से पूछताछ कर रही है। पुलिस ने घटनास्थल के डीवीआर को जब्त कर लिया है और एसपी आशुतोष बागरी ने भरोसा दिलाया कि पूरी घटना की रिकार्डिंग पुलिस के पास मौजूद है घायल के आवेदन, बयान और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पूरे मामले की जांच की जाएगी। वहीं उन्होंने ये भी बताया कि नामजद आरोपियों के अलावा जिन लोगो के भी नाम सामने आएगें उन पर अपराध कायम एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी।

ये भी देखें- Gwalior News: 1000 बिस्तर का अस्पताल विवादों में, नामकरण को लेकर भाजपा कांग्रेस आमने सामने

मामले पर पुलिस ने निगम को भी आरोपियों की अवैध निर्माणो को लेकर जानकारी सौंपी है ताकि निगम अपने स्तर पर कार्रवाई की तैयारी कर सके। फिलहाल, पूरे मामले में गैंगस्टर सतीश भाऊ और चिंटू ठाकुर पुलिस गिरफ्त में हैं, वहीं फरार आरोपी हेमू ठाकुर की तलाश जारी है। इसी के साथ सिंडिकेट दफ्तर पर पथराव करने वाले आरोपियों पर भी पुलिस कार्रवाई करेगी।

https://vimeo.com/577523460