आविष्कार: इस किसान ने जुगाड़ से बनाया एक मिनी ट्रैक्टर, कई खूबियां मौजूद

छतरपुर।संजय अवस्थी।

कोरोना महामारी के चलते हुए लॉक डाउन में वैसे तो प्रवासी मजदूरों की परेशानियों से लेकर अन्य कई तरह की अलग अलग तस्वीरें आती रही। लेकिन छतरपुर जिले के एक किसान ने लॉकडाउन मैं जुगाड़ से एक अलग ही आविष्कार कर डाला। छतरपुर जिले के राजनगर तहसील टोरिया चंद्रनगर के रहने वाले आशीष अवस्थी जो लगभग 5 एकड़ में लेमन ग्रास की खेती कर रहे हैं। खेती की जुताई एवं गोड़ाई के लिए उन्होंने कबाड़ के स्कूटर अन्य कई पार्ट जोड़कर जुगाड़ से एक मिनी ट्रैक्टर बना डाला। उनका यह अविष्कार ना सिर्फ देखने में खूबसूरत दिखता है। बल्कि उसकी कई सारी खूबियां हैं।

उनका कहना है कि यह 3 से 4 एकड़ की जमीन को आराम से जुताई कर सकता है एवं फसलों की गुड़ाई भी कर सकता है खपत की बात करें तो इसमें 1 घंटे में 700 से 800 ग्राम पेट्रोल लगता है, उन्होंने बताया की छोटे किसानों और बागवानी का काम करने वाले लोगों के लिए यह बहुत ही कारगर है, फसलों में कई बार खरपतवार उग आते हैं और इन्हें निकालना मुश्किल हो जाता है ऐसे में कई कंपनियों के पावर विडर मार्केट में जरूर हैं लेकिन उनकी लागत 40 से 50 हजार की होती है ऐसे में छोटे किसानों के लिए उसे खरीदना मुश्किल होता है उन्होंने बताया कि उनके द्वारा बनाए हुए स्कूटर कम ट्रैक्टर की लागत महज 5 से 6 हजार रुपये की लागत लगती है, आशीष अवस्थी पोस्ट ग्रेजुएट है और शुरू से ही उन्हें कुछ अलग करने की मन में ठानी थी और अब आधुनिक खेती के साथ साथ इस जुगाड़ के मिनी ट्रेक्टर को लेकर खासे चर्चा में हैं