Gwalior- ट्रक में सवार होकर निकले IPS, वसूली करते मिले 4 सिपाही, SP ने किया सस्पेंड

वहाँ तैनात सिपाही सत्यभान, रविंद्र कुशवाह, थान सिंह यादव और मुकेश शर्मा ने ट्रक को रोक लिया और ट्रक निकालने के एवज में पैसे मांगे। सिपाही ट्रक में बैठे IPS को पहचान ही नहीं पाए

डबरा

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। अवैध वसूली (Illegal Recovery) पर सख्ती के बावजूद पुलिस (Police) के सिपाही नाकों और चौराहों पर अवैध वसूली करने से बाज नहीं आ रहे। ताजा मामला ग्वालियर के झांसी रोड थाना क्षेत्र का है जहाँ ट्रेनी IPS ने चार सिपाहियों को ट्रक से अवैध वसूली करते पकड़ लिया। एसपी ने वसूली करने वाले चारों सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया है।

ग्वालियर पुलिस अधीक्षक अमित सांघी (SP Amit Sanghi) ने ट्रेनी IPS मोती उर रहमान (Moti ur Rahman) को ग्वालियर के हाइवे पर चैकिंग के निर्देश दिये थे। निर्देश के बाद वे रात को चैकिंग के लिए निकले। लेकिन उन्होंने एक तरकीब की। वे अपना वाहन छोड़कर एक ट्रक में सवार हो गए जिससे उन्हें कोई पहचान नहीं पाए। ट्रेनी IPS मोती उर रहमान जैसे ही ट्रक में सवार होकर झांसी रोड थाना क्षेत्र के विक्की फैक्ट्री तिराहे पर आये। वहाँ तैनात सिपाही सत्यभान, रविंद्र कुशवाह, थान सिंह यादव और मुकेश शर्मा ने ट्रक को रोक लिया और ट्रक निकालने के एवज में पैसे मांगे। सिपाही ट्रक में बैठे IPS को पहचान ही नहीं पाए। पैसे मांगने की बात सुनकर ट्रेनी IPS मोती उर रहमान ट्रक से नीचे उतरे और उन्होंने सिपाहियों को फटकार लगाते हुए अपना परिचय दिया। परिचय मिलते ही सिपाही माफी मांगने लगे लेकिन ट्रेनी IPS ने पूरी जानकारी एसपी अमित सांघी को दी उसके बाद एसपी ने चारों सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया। एसपी ने कहा कि इस तरह के औचक निरीक्षण की कार्रवाई जारी रहेगी और जो भी वसूली करते या कोई गड़बड़ी करते मिलेगा कार्रवाई की जायेगी।