जबलपुर: शेल्बी अस्पताल की सीजीएचएस मान्यता समाप्त, अपर निदेशक की बड़ी कार्रवाई

एसोसिएशन की शिकायत को गंभीरता से लिया गया लिहाजा दिल्ली हेड क्वार्टर ने अपर निदेशक डॉ रावत को सीजीएचएस ने तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

जबलपुर

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर की जानी-मानी शेल्बी अस्पताल पर सीजीएचएस की गाज गिरी है। दिल्ली हेडक्वार्टर के निर्देश पर जबलपुर अपर निदेशक ने कार्रवाई करते हुए सेल्बी हॉस्पिटल की मान्यता समाप्त कर दी है।शहर की इस बड़ी अस्पताल पर गाज गिरने के बाद अब दूसरे अस्पताल प्रबंधन में हड़कंप मच गया है।

दरअसल शेल्बी अस्पताल के खिलाफ लगातार शिकायत मिल रही थी कि सीजीएचएस लाभार्थी को कैशलेस की सुविधा नहीं मिल रही है जिसको लेकर सिटीजन वेलफेयर एसोसिएशन ने भी दिल्ली हेडक्वार्टर में शिकायत की थी। इसके अलावा यह भी बताया गया था कि शेल्बी अस्पताल सहित कई निजी अस्पताल सीजीएचएस लाभार्थियों से अभद्र व्यवहार एवं लूट खसोट भी करते हैं।

Read this: जबलपुर पहुंचे एमपी डीजीपी विवेक जोहरी, पुलिस कर्मचारियों की सुनी समस्या

एसोसिएशन की शिकायत को गंभीरता से लिया गया लिहाजा दिल्ली हेड क्वार्टर ने अपर निदेशक डॉ रावत को सीजीएचएस ने तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिए।शेल्बी हॉस्पिटल के नाम पर जारी आदेश में कहा गया है कि सीजीएचएस जबलपुर के अंतर्गत जून 2017 से शेल्बी अस्पताल का एमओयू अनुबंध है। इसके बाद भी अस्पताल प्रबंधन ने एमओयू की शर्तों का पालन नहीं किया। सीजीएचएस लाभार्थियों को भर्ती नहीं करने, फिर उन्हें भर्ती कर के पैसों की मांग करना और कैशलेस सुविधा प्रदान नहीं करने के कारण शेल्बी अस्पताल विजयनगर की मान्यता तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दी गई है।

सीजीएचएस अपर निदेशक ने अपने पत्र में यह भी कहा है कि शेल्बी अस्पताल की सीजीएचएस मान्यता समाप्ति के पहले इलाज के लिए भर्ती लाभार्थी अपना इलाज पूरा होने तक अस्पताल में ही भर्ती रहेंगे। सूत्र बताते हैं कि अपर निदेशक डॉ रावत के पास पहुंची शिकायतों में करीब एक दर्जन सीजीएचएस मान्यता प्राप्त निजी अस्पतालों के नाम शामिल हैं कहा जा रहा है कि अब कार्यवाही के लिए अगला नंबर इन अस्पतालों का हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here