Kamal-Nath-government's-cut-budget-of-shivraj-branding-plan-

भोपाल।

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक बार फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर किसानों के लिए राहत देने की मांग की है। कमलनाथ ने पत्र में लिखा है कि मध्य प्रदेश के अनेक जिलों में एक सप्ताह में हुई बारिश और ओलावृष्टि के कारण मालवा, निमाड़, बुंदेलखंड और ग्वालियर में हालात बद से बदतर हो गए हैं ।खेतों में खड़ी फसल और खलिहानो में पड़ी फसल दोनों बर्बाद हुई हैं और किसानों को मकानों के साथ-साथ पशु हानि की खबरें भी आ रही है।

इस विषम परिस्थिति में कोरोना की महामारी में किसानों के सामने जीवन यापन की समस्या खड़ी हो गई है। यह समय किसानों को संबल व सहायता प्रदान करने का है लेकिन सरकार बहुत धीमी गति से काम कर रही है ।मैंने 2मदो दिन पूर्व भी लिखे पत्र में आप से किसानों को अंतरिम राहत देने का आह्वान किया था परंतु अब तक कोई राहत राशि नही दी गई है। कमलनाथ ने पत्र में फसलों की नुकसानी के वार्षिक सर्वेक्षण का कार्य तत्काल शुरू करके एक सप्ताह में किसानों के हाथ में राशि पहुंचाने का निवेदन किया है ।साथ ही साथ फसल बीमा के तहत मिलने वाली किसानों की राशि भी उन्हें तत्काल देने की बात की है ।इसके साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण के समय किसानों के लिए 7500 रू प्रति माह के हिसाब से दो माह अंतरिम राहत राशि स्वीकृत करने का अनुरोध भी किया है।

कमलनाथ ने शिवराज को फिर लिखा पत्र, की ये मांग