नेता प्रतिपक्ष के लिए कमलनाथ की इस नाम पर सहमति, जल्द हो सकती है घोषणा

इसके साथ ही पूर्व मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह और जीतू पटवारी नेता प्रतिपक्ष की दौड़ से लगभग बाहर हो गए हैं।

कमलनाथ

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) में कांग्रेस (congress) विधानसभा नेता प्रतिपक्ष  (Assembly Leader of Opposition) के नाम की घोषणा कर सकती है। इसके लिए पीसीसी चीफ कमलनाथ (kamalnath) ने नेता प्रतिपक्ष के लिए प्रस्तावित नामों में से एक नाम पर अपनी सहमति दर्ज कर दी है। विधानसभा नेता प्रतिपक्ष के लिए पूर्व मंत्री बाला बच्चन (Bala Bachchan) के अलावा डॉक्टर गोविंद सिंह (Govind Singh), उमर सिंगार (Umar Singar) और जीतू पटवारी (Jeetu Patwari) के नाम शामिल थे। जिनमें से अब कमलनाथ ने आदिवासी कार्ड खेलते हुए बाला बच्चन के नाम पर सहमति जताई है।

दरअसल मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष बनने के लिए बाला बच्चन के नाम पर सहमति बनती दिखाई दे रही है। चर्चा है कि पीसीसी चीफ कमलनाथ ने बाला बच्चन के नाम पर सहमति दे दी है। हालांकि वही कांग्रेस के कुछ विधायकों ने उमर सिंगार पर अपना भरोसा जताया है। इसके साथ ही पूर्व मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह और जीतू पटवारी नेता प्रतिपक्ष की दौड़ से लगभग बाहर हो गए हैं।

सूत्रों की माने तो प्रदेश के सभी वरिष्ठ नेताओं ने बाला बच्चन के नाम पर सहमति दी है। चर्चा यह भी थी कि हाईकमान भी आदिवासी विधायक को नेता प्रतिपक्ष बनाना चाहता था। बाला बच्चन और उमर सिंगार अभी नेता प्रतिपक्ष की रेस में आगे चल रहे हैं। माना जा रहा है कि कमलनाथ हमेशा आदिवासियों के हित में फैसले लिए जा रहे हैं। वहीं मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने में आदिवासी समुदाय की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। जिसके कारण पूर्व मंत्री बाला बच्चन को नेता प्रतिपक्ष पद के लिए आगे किया गया है।

Read More: BJP प्रदेश कार्यकारिणी- वीडी शर्मा दिल्ली रवाना, दावेदारों में हलचल, जल्द जारी हो सकती है लिस्ट

बता दे कि नेता प्रतिपक्ष की दौड़ में बाला बच्चन, उमर सिंगार के अलावा गोविंद सिंह और सज्जन सिंह वर्मा के साथ जीतू पटवारी के नाम भी शामिल थे। इसके अलावा बृजेन्द्र सिंह राठौर भी इस रेस में शामिल नजर आ रहे थे। वहीं सूत्रों से आ रही खबर के मुताबिक अब लगभग गोविंद सिंह, सज्जन सिंह वर्मा और जीतू पटवारी इस रेस से बाहर नजर आ रहे हैं। इधर मध्यप्रदेश में विधानसभा का शीतकालीन सत्र 28 दिसंबर से शुरू हो रहा है। माना जा रहा है कि इससे पहले कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष के नाम की घोषणा कर सकती है।

गौरतलब हो कि वर्तमान में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पीसीसी चीफ के अलावा नेता प्रतिपक्ष का पद संभाल रहे हैं। जल्द ही वह इस पद से मुक्त हो सकते हैं। जिसके लिए नए नेता प्रतिपक्ष के नाम की घोषणा अनिवार्य होगी। वही बाला बच्चन के नाम पर सहमति बन रही है। बाला बच्चन कमलनाथ के करीबी माने जाते हैं। वही 2013 से 2018 तक बाला बच्चन कांग्रेस विधायक दल के उप नेता की भूमिका भी निभा चुके हैं।