कमलनाथ बोले, न कोई डरा सकता न पटा सकता

आकाश धौलपुरे/इंदौर। सीएम कमलनाथ (kamalnath) ने कहा है कि iifa कोई सरकारी समारोह नहीं है लेकिन उन्होने अपने निजी पहचान के आधार पर उन्हें प्रदेश में iifa अवार्ड फंक्शन करने के लिये आमंत्रित किया, ताकि इस तरह के अंतर्राष्ट्रीय समारोह के कारण देशभर में प्रदेश को एक अलग पहचान मिले। इंदौर में पत्रकारों से बात करते हुए कमलनाथ (kamalnath) ने कहा कि उन्होने कहा कि प्रदेश में निवेश आएगा और हम विकास के पथ पर आगे बढ़ेंगे।

वहीं दिल्ली में हुई हिंसा के मामले में कमलनाथ ने कहा कि बड़े दुख की बात है कि देश में ऐसा वातावरण बनाया जा रहा है जहा दंगे होने की आशंका बढ़ रही है। सीएए लागू करने के सवाल पर सीेएम ने कहा कि ऐसे समय में जबकि न तो कोई रिफ्यूजी आ रहे हैं इस तरह का कानून बनाने की क्या आवश्यकता है।