Kanpur Encounter : मारा गया विकास दुबे, पुलिस ने किया एनकाउंटर

कानपुर।

कानपुर पुलिसकर्मी हत्याकांड के मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे(Gangster Vikas Dubey, the main accused in the Kanpur policeman murder case) के एनकाउंटर(encounter) की खबर सामने आ रही है।

सूत्रों के मुताबिक यूपी एसटीएफ की टीम(UP STF Team) विकास हुए को लेकर जैसे ही कानपुर पहुंची। हाईवे पर एसटीएफ टीम की गाड़ी पलट गई थी।इस गाड़ी में विकास दुबे भी सवार था। गाड़ी पलटने के बाद विकास दुबे ने एसटीएफ के एक अधिकारी की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की। जहाँ पुलिस ने भी फायरिंग की।
पुलिस की फायरिंग में विकास दुबे के घायल होने की खबर है। जिसके बाद उसे हेलेन अस्पताल लाया गया। जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित किया।

दरअसल कानपुर में टोल प्लाजा पर विकास की गाडी पहुँचने के बाद से गुजरने वाली अन्य गाड़ियों को रोक दिया गया था। एसटीएफ सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस टोल प्लाजा पर आने-जाने वाली सभी गाड़ियो की चेकिंग भी कर रही थी। इधर चश्मदीद का कहना है कि हादसे के बाद पुलिस ने आस-पास इकट्ठा हुए लोगों को वापस भेज दिया था। उसके थोड़ी देर बाद गोलियों की आवाज सुनाई दी।

बता दें कि UP का कुख्यात गुंडा विकास दुबे को महाकाल मंदिर से गुरुवार सुबह गिरफ्तार किया गया था। जिसकी पुष्टि प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा(narottam mishra) ने की थी। वारदात के बाद से फरार विकास यूपी, दिल्ली, हरियाणा और मध्य प्रदेश पुलिस को चकमा देकर दर्शन करने मंदिर पहुंचा था। गिरफ्तारी के बाद विकास से पुलिस दो घंटे से ज्यादा पूछताछ की गई। इसके बाद उसे मध्यप्रदेश पुलिस ने यूपी एसटीएफ को सौंप दिया था।