खंडवा लोकसभा उपचुनाव : सबसे ज्यादा बेसब्री से इसी सीट के परिणाम का इंतजार

खंडवा, डेस्क रिपोर्ट।  लोकसभा उपचुनाव के परिणाम मंगलवार यानि आज आएंगे। उपचुनाव के नतीजों को लेकर प्रमुख राजनीतिक दलों के साथ ही आम आदमी में भी उत्सुकता बनी हुई है। खंडवा लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजों पर प्रदेशभर की निगाहें टिकी हैं, क्योंकि यह सीट सत्ताधारी भाजपा और विपक्षी कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा बनी हुई है। भाजपा ने खंडवा में ज्ञानेश्वर पाटिल को मैदान में उतारा, तो कांग्रेस ने राजनारायण सिंह पुरनी पर भरोसा जताया। दोनों ही दलों ने खंडवा में पूरी ताकत लगा दी। भाजपा की तरफ से जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत उनके कई मंत्रियों ने मोर्चा संभाला, तो कांग्रेस की तरफ से खुद कमलनाथ, अरुण यादव सहित तमाम दिग्गजों ने पुरजोर कोशिश की है।

MP उपचुनाव : बस थोड़ी देर में शुरू होगी मतगणना

नवीन आदर्श महाविद्यालय में एक दिन पहले तैयारी पूरी कर ली गई। खंडवा और पंधाना विधानसभा की मतगणना 28 चरणों में पूरी होगी,जबकि मांधाता की 22 चरणों में समाप्त हो जाएगी। इस लिहाज से मांधाता की मतगणना पहले पूरी होने का अनुमान लगाया जा रहा है। खंडवा संसदीय क्षेत्र में बागली, मांधाता, खंडवा, पंधाना, नेपानगर, बुरहानपुर, भीकनगांव और बड़वाह विधानसभा की मतगणना होगी। जिले में खंडवा, मांधाता और पंधाना की कमतगणना नवीन आदर्श महाविद्यालय में होगी जबकि देवास, बुरहानपुर, खरगोन में अन्य विधानसभा के वोटों की कमतगणना होगी।मंगलवार को लोकसभा उपचुनाव के परिणाम आते ही भाजपा और कांग्रेस में प्रत्याशियों की जीत और हार को लेकर लगाए जा रहे कयासों पर विराम लग जाएगा। सुबह 8 बजे से हरसूद रोड पर ग्राम नाहल्दा स्थित नवीन आदर्श महाविद्यालय के हाल में मतगणना होगी। यहां जिले की तीन विधानसभा खंडवा, मांधाता और पंधाना की मतगणना अलग-अलग चरणों में होगी। एक दिन पहले यहां अधिकारियों की टीम मतगणना को लेकर तैयारियों को अंतिम रूप देती हुई नजर आई। लोकसभा उपचुनाव में डले वोटों की गिनती के लिए मतगणना स्थल पर हर विधानसभा की 14-14 टेबलें लगेंगी। इसके अलावा माइक्रो आब्जर्वर की भी एक-एक टेबल हर विधानसभा के लिए लगाई जाएगी। ये माइक्रो आब्जर्वर हर राउंड में दो मशीनों की अलग से जांच करेंगे। विधानसभा वार मतदान केंद्रों की संख्या के आधार पर मतगणना के चरण पूरे होंगे। मांधाता विधानसभा में 306 मतदान केंद्रों पर वोटिंग हुई थी। जबकि खंडवा में 390 तथा पंधाना में 384 केंद्रों पर मतदान हुआ था।