Khandwa Update: 20 नए कोरोना पॉजिटिव आए सामने, कलेक्टर ने सख्त किये नियम

खंडवा। सुशील विधानी।

खंडवा में आज 20 रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी हैं। जो कि घासपुरा , सिंधी कॉलोनी , कहारवाड़ी, सराफा बाजार, रामकृष्ण गंज व बड़ा बम क्षेत्र के हैं। सभी को कोविड केयर वार्ड में भर्ती किया जा रहा है। डॉ योगेश शर्मा ने बताया कि कल 192, परसों 257 निगेटिव रिपोर्ट आई थीं। उल्लेखनीय है कि अब तक 1657 सेम्पल जिले में लिए गए हैं। जिसमे से 1137 रिपोर्ट निगेटिव आयी हैं। ये जिला प्रशासन द्वारा सही दिशा में उठाये गए कदमो का ही परिणाम है कि कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग कर संदिग्ध मरीजों के सैम्पल्स भेज कर परीक्षण कराया जा रहा है। जिसमें ये पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं।

कलेक्टर तन्वी सुंद्रियाल ने बताया कि फेस मास्क लगाना अनिवार्य रहेगा, दो मीटर का फिजिकल डिस्टेंस रखना अनिवार्य होगा। सार्वजनिक स्थानों पर थूकना, कुल्ला करना, गरारे करना, मुंह धोना, टूथब्रश करना आदि प्रतिबंधित रहेगा। मध्यप्रदेश शासन के आदेशानुसार थूकने पर 1 हजार रूप का अर्थदण्ड मौके पर वसूल कर विधिक प्रावधानों के तहत कार्यवाही की जा सकेगी। घर से बाहर निकलने पर हर आधे घंटे में साबुन से हाथ धोना अथवा सेनेटाइज करना अनिवार्य होगा। आम जनता को लिक्विड सोप, पेपर सोप, सेनेटाइजर आदि साथ में रखने की हिदायत दी गई है।

उन्होंने बताया कि अनुभाग के सभी प्रतिष्ठाान संचालकों को यथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, मास्क पहनने की अनिवार्यता, सेनिटाइजेशन, साफ सफाई आदि की जिम्मेदारी प्रतिष्ठान संचालक की होगी, यदि यह नही पाया जाता है, तो दुकाने बिना किसी सुनवाई के वहीं पर सील कर दी जायेगी तथा राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्यवाही की जायेगी। प्रतिष्ठान संचालक से 500 रूपये अर्थदण्ड मौके पर ही वसूल किया जायेगा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. चौहान ने बताया

स्वास्थ्य विभाग के दल शहर के विभिन्न वार्डो में घर-घर जाकर सर्वेक्षण का कार्य कर रहे है। इन दलों में चिकित्सकों के साथ साथ सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी, लेब टेक्निशियन, सुपरवाईजर, ए.एन.एम., आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की ड्यूटी लगाई गई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. डी.एस. चौहान ने बताया कि 3 दिवस में सर्वे के दौरान स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने शहर के 23 वार्डो में 7182 घरों में परिवार के सभी सदस्यों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। साथ ही सर्वे दल ने जुकाम, खांसी, बुखार, ब्लड प्रेशर के मरीजों की जानकारी संकलित कर अधिकारियों को प्रस्तुत की। साथ ही दल के द्वारा पेम्पलेट वितरण कर उनको कोरोना वायरस के बचाव व रोकथाम के बारे में समझाइश दी। इसके अलावा मोबाइल यूनिट दलों के द्वारा 3 दिवस में कोरोना संदिग्ध मरीजों के सेम्पल लिए गए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. चौहान ने बताया कि दल द्वारा रविवार को कुल 2679 घरों में जाकर वहां के परिवारों के स्वास्थ्य की जानकारी ली।