श्रमिक ट्रेन में जन्मा “लॉक डाउन यादव”, बना रेल विभाग का VIP मेहमान

237

बुरहानपुर।शेख रईस ।

कोरोना लॉक डाउन के चलते मुंबई से अंबेडकर नगर श्रमिक ट्रेन से सफर कर रहे श्रमिक परिवार की प्रसुता को प्रसव पीडा होने पर रेलवे की मदद ली गई ट्रेन को बुरहानपुर स्टेशन रोका गया जहां के जिला अस्पताल में प्रसुता ने एक बालक को जन्म दिया जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ्य है अस्पताल से छुट्टी होने पर परिवार दोबारा रेलवे स्टेशन लौटा तो उन्हें उनके रूट की रेल नहीं मिल रही है वहीं भीषण गर्मी के मौसम में श्रमिक ट्रेन जैसी व्यवस्था में जानकार जच्चा बच्चा दोनों के लिए रेल का सफर करना ठीक नहीं मान रहे है।

लिहाजा नवजात बच्चा जिसका उसके माता पिता ने प्यार से फिलहाल लॉक डाउन यादव नाम रखा है रेलवे ने एसी यात्री प्रतिक्षालय में सारे इंतेजाम किए है अब परिवार की केंद्र सरकार मप्र सरकार और यूपी सरकार से गुहार है सडक मार्ग से उन्हें उनके नौनिहाल के साथ अपने घर पहुंचा दिया जाए।

वैश्विक महामारी कोरोना के चलते पूरे देश में लॉक डाउन है, महाराष्ट्र, गुजरात में कार्यरत उत्तर प्रदेश बिहार पश्चिम बंगाल के प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार ने स्पेशल श्रमिक ट्रेन शुरू की है इसी ट्रेन में मूल रूप से उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर जिले के निवासी उदयभान सिंह यादव जो मुंबई में वेल्डिंग के कारीगर है अपनी प्रसुता पत्नी को लेकर मुंबई से अंबेडकर नगर जाने के लिए श्रमिक ट्रेन में सवार हो गए हालांकि डॉक्टरों ने उनकी पत्नी की डिलेवरी की तारिख कुछ दिन बाद की दी थी लेकिन सफर करने के दौरान भुसावल जंक्शन के पास पत्नी को प्रसव पीडा हुई पति ने रेल टिकट पर लिखे हेल्प लाईन नंबर से मदद मांगी इस पर अगले स्टेशन बुरहानपुर में जीआरपी के थाना प्रभारी आरएस यादव ने प्रसुता को स्टेशन से लेकर अस्पताल पहुंचाने के लिए एंबुलैंस का इंतजाम किया बुरहानपुर जिला अस्पताल में प्रसुता ने नॉर्मल डिलेवरी के तहत एक पुत्र को जन्म दिया इसके बाद अस्पताल प्रशासन ने छुट्टी दे दी दोपहर स्टेशन पहुंचने पर परिवार को उनके रूट की ट्रेन नहीं मिली आरपीएफ थाना के प्रभारी भूपेंद्र सिंह व आरक्षक अतुल बारी की प्रसुता नवजात और परिवार पर नजर पडी तो उन्होने उन्हें रेल का सफर नहीं करने की सलाह दी और वैकल्पिक रूप से सडक मार्ग से जाने को कहा परिवार राजी हो गया आरपीएफ ने इसकी सूचना रेल प्रशासन को दी रेल विभाग ने लॉक डाउन यादव उसकी मा व पिता की जब तक व्यवस्था नहीं होती तब तक उसे अपना वीआईपी मेहमान बना लिया अब परिवार मप्र की शिवराज सरकार, यूपी की आदित्य योगीनाथ सरकार और केंद्र की मोदी सरकार से अपने नौनिहाल के साथ अपने गृह जिले सुरक्षित पहुंचा दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here