Lockdown3: शादी आगे बढ़ा ड्यूटी निभा रही आरक्षक, अधिकारियों ने जज्बे को सराहा

जबलपुर।संदीप कुमार

शादी….हर व्यक्ति का प्यारा सपना होता है। जिसे वो जल्द से जल्द साकार भी करना चाहता है। पर जबलपुर के संजीवनी नगर थाने में पदस्थ एक महिला पुलिस आरक्षक को अपनी शादी से ज्यादा ड्यूटी और देश भक्ति प्यारी थी यही वजह है उसने अपने फर्ज के लिए शादी की तारीख आगे बढ़ा दी। खास बात ये है कि मीनाक्षी के इस कदम को उसके होने वाले पति और परिवारजनों ने भी सराहा है। अब मीनाक्षी के चर्चे विभाग सहित पूरे शहर में है। पुलिस अधिकारी भी उसके जज्बे को सलाम कर रहे है।

4 मई को था मीनाक्षी का विवाह

मूलतः सतना जिले के मैहर की रहने वाली मीनाक्षी संजीवनी नगर थाने में महिला आरक्षक के पद पर पदस्थ है।मीनाक्षी को अपनी शादी से ज्यादा ड्यूटी और फर्ज महत्त्वपूर्ण लगा।बस फिर क्या था मीनाक्षी ने अपने फर्ज को देखते हुए होने वाले पति से साफ शब्दों में कह दिया कि जब कोरोना वायरस प्रदेश से खत्म हो जाएगा और लॉक डाउन हट जाएगा तब वह विवाह करेगी।

मीनाक्षी के इस फैसले को होने वाले पति ने भी सहर्ष स्वीकार किया

महिला आरक्षक मीनाक्षी शुक्ला कि जिससे शादी होने वाली है। वह पंजाब रेजीमेंट में लांस नायक के पद पर पदस्थ है मीनाक्षी ने जब अपनी शर्त अपने होने वाले पति को बताई तो वो भी खुशी खुशी तैयार हो गए और उन्होंने भी मीनाक्षी से यही कहा कि अब लॉकडाउन खत्म होने के बाद विवाह होगा।

शादी की हो चुकी थी तैयारी,छप गए थे कार्ड

मीनाक्षी शुक्ला ने बताया कि उसका घर सतना जिले में है जबकि उनके होने वाले पति रीवा के है।दोनो ही परिवार में शादी की तैयारी पूरी हो गई थी।विवाह के कार्ड छप गए थे। कपड़े गहने भी खरीद लिए गए थे।पारिवारिक रिस्तेदार भी आना शुरू हो गए थे पर कोरोना वायरस में ड्यूटी कर रही। महिला पुलिस आरक्षक ने ड्यूटी को अहमियत दी और अपने परिवार वाले से अभी विवाह के लिए मना कर दिया।

ड्यूटी के लिए मीनाक्षी के इस कदम को उसके वरिष्ठ अधिकारी भी सराह रहे है

महिला पुलिस आरक्षक मीनाक्षी संजीवनी नगर थाने में पदस्थ है। उसके इस कदम को लेकर थाना प्रभारी भूमेश्वरी चौहान ने भी सलाम किया है। मीनाक्षी को लेकर उन्होंने बताया कि वह बहुत ही होनहार लड़की है। अपने काम के प्रति वह समर्पित भी है ऐसे में अब उसने अपने कर्तव्य को लेकर जो जज्बा दिखाया है वह क़ाबले तारीफ है।