कोरोना संकट के बीच टिड्डी दल की दस्तक, प्रशासन ने उठाये सख्त कदम

मंदसौर।तरुण राठौर।

एक ओर जहां पूरा जिला कोरोना के प्रकोप के चलते परेशान है। ऊपर से एक ओर नई आफत के तौर पर टिड्डी दल ने जिले में दस्तक दे दी। जिसकी वजह से किसानों के माथे पर दुगनी चिंता की रेखा दिखाई दे रही है। जो हाल फिलहाल भानपुरा-गरोठ तहसील के गांव में है। और बहुत बड़ी तादाद में है। ये दल राजस्थान के रास्ते जिले में आया है और धीरे धीरे कर पूरे जिले में फैल जाएगा। इन्हें रोकने के लिए प्रशासन ने कदम उठाए। जिसके तहत टिड्डी दल का मूवमेंट गांधीसागर पठार के प्रेमपुरिया गांव में संभावित होने की सूचना आज प्रातः ही सिंगोली से प्राप्त हुई थी।

जिस पर तहसील के समस्त पटवारियों ने एक्टिव होकर ग्रामीणों को टिड्डी दल से निपटने का तरीका बताया। आज 10 बजे के करीब टिड्डी दल ग्राम सुजानपुरा उतरा था। तैयारी पूरी होने से ग्रामीणों की मदद से उसे 10 मिनट में ही उड़ा दिया गया। 3 झुंडों में से 2 रामपुरा नीमच की ओर उड़े। जबकि एक कंवलागांव तरफ गया, जो कि कंवला में उतरा। वहां से उड़ाया तो बाबुलदा में उतरा। वहां से भी उड़ा दिया गया है। फ़िलहाल कुंटलखेड़ी ग्राम में मूवमेंट की सूचना है। वहां भी ग्रामीणों की मदद से उड़ाने के प्रयास जारी हैं। टिड्डी दल को कुंटलखेड़ीसे भी उड़ा दिया गया है। ये एक झुंड 2 भागों में बंट गया है। जिसमें एक झुंड राजस्थान के सरकनिया गांव की ओर जबकि दूसरा गरोठ तहसील के बर्रामा की ओर निकला है।