मोहब्बत में हारे कांस्टेबल ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में लिखा, ”शोना बाबू को आधा पैसा दे देना”

खंडवा, डेस्क रिपोर्ट। प्रेमिका की शादी के बाद भी उसे न भूल पाने वाले एक कांस्टेबल प्रेमी ने मौत को गले लगा लिया, मृतक इंदौर का रहने वाला था, और खंडवा में पदस्थ था, दरअसल मृतक धनेश्वर सोनेने का एक लड़की से प्रेम संबंध था, लेकिन किसी वजह से उसकी शादी धनेश्वर से नही हो पाई, लेकिन उसके बाद धनेश्वर ने भी शादी नही की, और इंदौर घर आना ही छोड़ दिया, पांच साल तक धनेश्वर अपने माता पिता तक से मिलने इंदौर नही आया, प्रेमिका भी नजदीकी  रिश्तेदार ही थी। जिसके बाद धनेश्वर ने परिवार में भी किसी से भी मिलना जुलना छोड़ दिया।

MP Politics: कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह का ट्वीट- फिर भी निर्णय ऊपर से होते हैं

2013 में ही धनेश्वर पुलिस में भर्ती हुआ था, कुछ दिनों पहले ही वह इंदौर गया और अपने परिजनों से मिलकर लौटा और इसके बाद उसने फांसी लगा ली, सुसाइड नोट में उसने लिखा पापा मुझे माफ़ कर देना, बहुत अकेला पड़ गया हूं। धनेश्वर ने लिखा कि मेरी मौत के बाद मेरा आधा पैसा “सोनू बाबू” को दे देना, वही वाशिंग मशीन और गाड़ी छोटे भाई को दे देना। हालांकि यह भी बताया जा रहा है कि मृतक पाइल्स और लिवर की बीमारी से भी परेशान था, फिलहाल मौत की खबर के बाद परिजन खंडवा पहुंचे, परिजनों ने खंडवा में ही धनेश्वर का अंतिम संस्कार कर दिया, पुलिस ने मर्ग कायम किया है।

मोहब्बत में हारे कांस्टेबल ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में लिखा, ''शोना बाबू को आधा पैसा दे देना''