लॉकडाउन में प्रेम विवाह, अनलॉक में तकरार के बाद उतारा मौत के घाट, गिरफ़्तारी के बाद फरार

देर रात जब पुलिस उसके साथ पूछताछ कर रही थी तभी आरोपी ने अचानक ही पुलिस आरक्षक को धक्का दिया और मौके से फरार हो गया,जब तक पुलिस कुछ समझ पाती तब तक वह बहुत दूर निकल गया था।

जबलपुर, संदीप कुमार। पत्नी की हत्या करने के बाद पुलिस गिरफ्त में आया वकील पति चंद्रदीप देर रात में पुलिस आरक्षक को धक्का देकर फरार हो गया। आरोपी के फरार होते ही कोतवाली थाना में अफरा तफरी मच गई लिहाजा सूचना के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुँचे। सारे शहर में नाकाबंदी कर हत्यारे की तलाश शुरू कर दी।आखिर आज सुबह आरोपी चंद्रदीप को धन्वंतरि नगर स्थित परसवाड़ा में अपनी बहन के घर के पास से ही पुनः गिरफ्तार कर लिया गया।

अपने साथी के घर छिपा हुआ था आरोपी चंद्रदीप

विकलांग पत्नी मोनिका की हत्या करने के बाद कोतवाली थाना पुलिस ने उसे वकील चंद्रदीप को गिरफ्तार कर थाने लाई हुई थी,देर रात जब पुलिस उसके साथ पूछताछ कर रही थी तभी आरोपी ने अचानक ही पुलिस आरक्षक को धक्का दिया और मौके से फरार हो गया,जब तक पुलिस कुछ समझ पाती तब तक वह बहुत दूर निकल गया था।

पुलिस ने की नाकाबंदी-रात भर हुई तलाश

पेशे से वकील चंद्रदीप के कोतवाली थाने से फरार होते ही पुलिस में अफरा तफरी मच गई,आनन फानन में कोतवाली थाने का स्टाफ आरोपी को तलाश करने के लिए शहर की खाक छानने में जुट गया,इधर सूचना मिलते ही asp अमित कुमार भी थाने पहुँच गए और शहर में नाकाबंदी कर दी।वायरलेस सेट के माध्यम से सभी थानों में सूचना दी गई कि पत्नी की हत्या करने वाला आरोपी पति थाने से फरार हो गया है।

Read More: हुक्का बार पर छापा,कोरोना में भी एक ही पाइप से गुड़गुड़ा रहे थे युवक युवती

सुबह पुनः गिरफ्तार हुए आरोपी पति चंद्रदीप

पत्नी मोनिका की हत्या करने वाले आरोपी पति को कोतवाली पुलिस ने मौके से ही गिरफ्तार कर लिया,पुलिस उसे हिरासत में लेकर थाने भी ले आई और जब देर रात उससे पूछताछ की जा रही थी तभी वह सिपाही को धक्का देकर फरार हो गया,रात भर पुलिस उसे तलाश करती रही और सुबह पुलिस को जानकारी लगी कि वह सुबह आरोपी चंद्रदीप को धन्वंतरि नगर स्थित परसवाड़ा में अपने एक साथी के यहाँ छिपा हुआ है जिसके बाद पुलिस ने मौके पर दबिश देकर आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया।

विकलांग पत्नी की वकील पति ने की थी हत्या

पेशे से वकील चंद्रदीप ने लॉक डाउन के समय विकलांग मोनिका से लव मैरिज की थी,विवाह के उपरांत दोनो ही लोगो के परिवार भी मौजूद थे,विवाह के कुछ दिन बाद से ही अक्सर पति-पत्नी में विवाद होना शुरू हो गया,घटना वाले दिन भी चंद्रदीप का मोनिका से विवाद हुआ जिसके बाद उसने लोहे की रॉड मारकर मोनिका की हत्या कर दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here