6 महीने पहले की थी लव मैरिज, दहेज के लिए पति करता था परेशान, पत्नी ने डिप्रेशन में की आत्महत्या

प्रेमिका से रोजाना बाइक,पलंग और रु लाने की मांग करने लगा। जब प्रेमिका यह नहीं कर पाई तो उसे मानसिक-शारीरिक प्रताड़ित किया गया। और आखिर में परेशान प्रेमिका ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर (Jabalpur) के पनागर में एक प्रेम कहानी का दुखद अंत हुआ है। इसमें प्रेमिका को अपनी जान गंवानी पड़ी तो वहीं प्रेमी को पुलिस से बचने के लिए फरार होना पड़ा। दरसअल शादी के पहले प्रेमी ने प्रेमिका से वादा किया था उसकी खुशी के लिए कुछ भी करेगा। चांद तारे तक तोड़कर ले आएगा। उसे किसी भी तरह की परेशानी नहीं होगी पर लव मैरिज के 6 माह बाद ही प्रेमी ने अपनी मौसी के साथ मिलकर अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया। प्रेमिका से रोजाना बाइक,पलंग और रु लाने की मांग करने लगा। जब प्रेमिका यह नहीं कर पाई तो उसे मानसिक-शारीरिक प्रताड़ित किया गया। और आखिर में परेशान प्रेमिका ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

यह भी पढ़ें…Video : जब एक बंदर दूसरे से लपक कर लग गया गले, देखिये इमोशनल वीडियो

नगर पुलिस अधीक्षक अधारताल अशोक तिवारी ने बताया कि थाना पनागर में 4 जून को फूटाताल पनागर निवासी शशि ठाकुर ने सूचना दी थी, कि उसकी बड़ी बहन का बेटा रोहित ठाकुर बचपन से उसके साथ रहता था। जो रिछाई में काम करता है। 6 दिसंबर 2020 को आकांक्षा ठाकुर से प्रेम विवाह किया था। दोनों उसके घर में रहते थे। 4 जून को सुबह 10:30 बजे रोहित काम पर चला गया था। शाम 7:30 बजे वह घर के बगल में चारा उखाड़ने चली गयी। बहु आकांक्षा कमरे में थी, उसकी बेटी आंगन मे लैपटाप चला रही थी। काफी देर तक बहु आकांक्षा चाय लेकर नहीं आई तो वह कमरे के अंदर गयी। जहां देखा कि घर की खिड़की में दुपट्टा बांधकर आकांक्षा फांसी पर लटकी हुई थी। इलाज के अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया।

25 नवंबर को प्रेम विवाह, 6 दिसंबर 2020 धूमधाम से हुई थी शादी
आकांक्षा के मायके पक्ष के एवं मकान मालिक के कथन लिये गए। जिस पर पाया गया कि आकांक्षा केवट ने 25 नवंबर 2020 को रोहित ठाकुर से कोर्ट मैरिज की थी। उसके बाद दोनों पक्षों की सहमति से दिनांक 6 दिसंबर 2020 को आकांक्षा एवं रोहित ठाकुर की शादी हुयी थी।

बाइक-पलंग और पैसे नहीं जुटा पाई मृतिका
पुलिस ने बताया कि शादी के कुछ दिन बाद ही आकांक्षा को पति रोहित ठाकुर, मौसी सास शशि ठाकुर दहेज में मोटर सायकल एवं पलंग के लिये पैसों की मांग करते थे। मांग पूरी न होने पर दोनों आकांक्षा के साथ मारपीट कर शारीरिक एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे उक्त प्रताड़ना से तंग आकर शादी के लगभग 6 माह बाद ही विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने जांच पर पति रोहित ठाकुर एवं मौसी सास शशि ठाकुर के विरूद्ध धारा 498 ए, 304 बी, 34 भादवि एवं 3, 4 दहेज अधिनियम का अपराध पंजीबद्ध आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।

यह भी पढ़ें… Video : मंत्री पद के सवाल पर बोले सिंधिया- “मेरे DNA में नहीं है ये सब”