जबलपुर।संदीप कुमार

ऑर्डनेंस फैक्टरी खमरिया (ओएफके) के एक वर्क्‍स कमेटी मेंबर को फेसबुक में महिला से दोस्ती भारी पड़ रही है।आज गेट नंबर 7 पर पहुंची फेसबुक फ्रेंड (कथित प्रेमिका) ने हंगामा खड़ा कर दिया। वह सुरक्षा कर्मचारियों से यह कहते हुए भिड़ गई कि उस वर्क्‍स कमेटी मेंबर से मिलने दिया जाए। सुरक्षा कर्मियों का कहना था कि जो कर्मचारी एक बार अंदर प्रवेश कर गया,वह लंच में ही बाहर आएगा। फैक्टरी गेट में काफी देर तक चला घटनाक्रम चर्चा का विषय बना है।

फेसबुक में हुई दोस्ती प्यार में बदली

जानकारी के मुताबिक वर्क्‍स कमेटी मेंबर ने कुछ माह पहले एक महिला की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार की थी इसी दौरान कोरोना के कारण लॉक डाउन घोषित हो गया। इस अवधि में दोनों के बीच चेटिंग होती रही। चूंकि महिला ओएफके से लगे हुए क्षेत्र मानेगांव की ही निवासी थी, दोनों की मुलाकात भी शुरु हो गई और फेसबुक की दोस्ती कथित प्यार में बदल गई। फेसबुक में दोस्ती और लॉक डाउन में पनपी प्रेम कहानी का खुलासा आज सुबह उस समय हुआ जब वर्क्‍स कमेटी मेंबर का पीछा करते हुए उक्त महिला फैक्टरी गेट तक जा पहुंची और अचानक उसने मेंबर की कॉलर पकड़ ली। जिससे घबराकर वह फैक्टरी गेट के अंदर भागा। बताते हैं कि महिला भी पीछा करते हुए फैक्टरी गेट से अंदर जाने लगी, लेकिन उसे सुरक्षा कर्मियों ने रोक लिया। जिसके बाद महिला ने हंगामा करते हुए फेसबुक के कथित प्रेम की कहानी सब के सामने ला दी।

पैसो की डिमांड वाला ऑडियो हुआ वायरल

इस घटनाक्रम से जुड़ा हुआ एक ऑडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। जिसमें फेसबुक फ्रेंड (कथित प्रेमिका) फैक्टरी कर्मी से 50 हजार रूपए की मांग कर रही है। ऑडियो में वह स्पष्ट तौर पर यह कहते हुए सुनाई आ रही है कि पेंमेंट कर दो, नहीं तो फिर हंगामा होगा।

दूसरे के नाम की आईडी बनी

इस मामले में कर्मचारी नेताओं का कहना है कि उक्त महिला की फर्जी फेसबुक आईडी है। जिस फेसबुक आईडी से उसने ओएफके कर्मचारी को दोस्ती का प्रस्ताव भेजा था, वह उसके नाम की नहीं है। लिहाजा यह कोई गिरोह हो सकता है जो कर्मचारियों को फंसाकर पैसे की डिमांड करता है। मामले में किसी पक्ष ने पुलिस में रिपोर्ट नहीं की है।