माही वे ……कुछ ऐसे गुनगुनाया इंदौर के कोरोना वारियर्स ने, जाने क्यों

इंदौर।आकाश धोलपुरे

इंदौर की एक मासूम बेटी को बस इतना अहसास, कल से पहले था कि उसका जन्मदिन आने वाला है लेकिन कोरोना संकट के चलते उसे ये भी पता था कि आस पास बेरिकेड्स लगे है और दुकाने भी बंद है ऐसे में शायद उसका जन्मदिन इस बार मनाया ही नही जा सके। लेकिन मासूम बेटी की सोच से परे कुछ ऐसा हुआ कि माही का जन्मदिन यादगार बन गया।

दरअसल, कोरोना काल मे जन्मदिन सेलिब्रेशन को लेकर बच्चो में उत्साह तो होता है लेकिन लॉक डाउन ऊपर से कोविड नियम उनकी खुशियों पर लगाम कस रहे है। ऐसे में मासूम बेटी माही के पापा गोविंद राठौर ने प्रशासन को इस बात जानकारी दी कि आज उनकी बेटी का जन्मदिन है और बातो ही बातो में बेटी ने अचानक, सेवा करने वाले डॉक्टर्स और वारियर्स के साथ खुशियां बांटने की मांग कर डाली है। लिहाजा, जब इस बात की जानकारी प्रशासन और डॉक्टर्स तक पहुंची तो वे शुक्रवार शाम को इंदौर के समाजवादी इंदिरा नगर स्थित माही राठौर के घर जा पहुंचे।

हालांकि, अचानक जब डॉक्टर्स की टीम माही के घर पहुंची तो आस – पास में रहने वाले लोग सोच में पड़ गए लेकिन जब प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर पटवारी सचिन मीणा ने बर्थ डे केक निकालकर माही को बर्थ डे विश किया तो सब देखते रह गए और घर पहुंचे डॉक्टर्स के मुंह से सहसा ही निकल पड़ा ये गीत माही वे ……….. मोहब्बता। इसके बाद परिजनों की मौजूदगी में कोरोना वारियर्स डॉ. अभिलाष व्यास, डॉ. रेखा चौहान और चैतन्य कुमरावत ने माही से केक कटवाया और फिर सभी ने सोशल डिस्टेसिंग का ध्यान रख माही को जन्मदिन की शुभकामनाएं भी दी। वैसे तो इस तरह से जन्मदिन मनाया जाना कोरोना के दौर में आम हो गया है लेकिन माही के जन्मदिन कि खास बात ये रही कि इस बार वारियर्स के रूप में पुलिस नही बल्कि डॉक्टर्स की टीम एक साथ मौजूद थी।