व्यापारियों को राहत, लॉकडाउन के बीच शुरू हुई आम की मंडी

अलीराजपुर।यतेंद्रसिंह सोलंकी

अलीराजपुर लंबे लाॅक डाउन के बाद बाजारो में स्थिति धीरे धीरे सामान्य होती नजर आ रही है लेकिन व्यापार में जो मंदी आई है उससे व्यापारीयों को काफी नुकसान पहुंच रहा है। बात करे मौसम के फू्रट आम की तो उसकी आवक शुरू हो चुकी है ओर मध्यप्रदेश की देशी आम की सबसे बड़ी मण्डी अलीराजपुर में आम की खुशबू आने लगी है। लेकिन इस बार जो आवक में गिरावट आई है वो चैकाने वाली है। दरअसल, किसान व व्यापारीयों की माने तो इस बार आम केवल 10 प्रतिशत ही आया है यानी सीधे-सीधे 90 प्रतिशत का नुकसान हुआ है। वहीं आम क्वालीटी में भी इस बार असर देखने को मिल रहा है। वही लाॅक डाउन होने के कारण भारत के कई कौने से आने वाले व्यापारी भी इस बार मंडी में नहीं पहुंचे है जिससे दामो की जो बढ़ोतरी होती थी वो नहीं हो रही है।

\मध्यप्रदेश की देशी आम की सबसे बड़ी मण्डी अलीराजपुर में आम की आवक शुरू हो गई है लेकिन इस बार आम केवल 10 प्रतिशत ही आया है। आपको बता दे कि अलीराजपुर की आम मण्डी इतनी फेमस है कि गुजरात,महाराष्ट्र,राजस्थान व अन्य प्रदेशो से व्यापारी इस मण्डी में आते है लेकिन इस बार लाॅक डाउन के कारण अन्य प्रदेशो से व्यापारी नहीं पहुच पा रहे है ओर केवल प्रदेश के ही व्यापारी आ रहे है। वहीं व्यापारीयों का कहना है कि इस बार आम की आवक तो कम हुई है लेकिन किसान को इस बार आम का दाम काफी अच्छा मिल रहा है। क्योकि पिछले साल में आम 10 से 12 रूपए प्रति किलो बिका था ओर इस बार 30 से 40 रूपए प्रति किलो के दाम मिल रहे है। व्यापारीयों का कहना है कि आवक कम होने से व्यापारीयों को फायदा नहीं मिल रहा है। वहीं किसानो का कहना है कि पिछले साल एक पेड से छोटा चार पहिया वाहन आम से भरा जाता था लेकिन इस बार एक पेड से 2 से 4 बोरी आम ही निकल रहा है। किसानो का मानना है कि यह मौसम की मार के कारण हुआ है, दाम तो अच्छे है लेकिन आम की आवक अच्छी होती तो मुनाफा अच्छा होता।