मेडिकल कॉलेज में डेढ़ सौ से अधिक पाजिटिव महिलाओं का इलाज, दो की इलाज के दौरान मौत

दो महिलाओं(women) का इलाज के दौरान दुखद निधन भी हुआ है। दोनों महिलाएं को गंभीर अवस्था में मेडिकल अस्पताल(medical college) में भर्ती करवाया गया था।

medical college

जबलपुर, संदीप कुमार। नेताजी सुभाष चन्द्र बोस मेडिकल कॉलेज(medical college) के स्त्री रोग विभाग में अभी तक डेढ़ सौ से अधिक कोरोना संदिग्ध एवं पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं(women) का उपचार किया जा चुका है। इसमें से 24 कोरोना पॉजिटिव की नॉर्मल डिलीवरी एवं 30 कॉरोना पॉज़िटिव की सिजेरियन ऑपरेशन से डिलीवरी कराई गई है।

इस दौरान दो महिलाओं(women) का इलाज के दौरान दुखद निधन भी हुआ है। दोनों महिलाएं को गंभीर अवस्था में मेडिकल अस्पताल(medical college) में भर्ती करवाया गया था।मेडिकल अस्पताल(medical college) से अभी तक 110 महिलाएं स्वस्थ हो कर घर जा चुकी हैं। ये महिलाएं विभिन्न सरकारी तथा प्राइवेट अस्पताल से रेफर हो कर मेडिकल आई थीं।

इस कार्य को सफल बनाने में इनका सहयोग रहा

स्त्री रोग विभाग की टीम जिसमें विभागाध्यक्ष डॉ. प्रो. कविता सिंह एन सिंह, डॉ. प्रो. गीता गुइन, डॉ. अर्चना सिंह, डॉ. प्रियदर्शिनी तिवारी, डॉ. भारती साहू, डॉ. सोनल साहनी, डॉ. विनीता घनघोरिया के मार्गदर्शन में डॉ. अर्चना ठाकुर, डॉ. साक्षी मिश्रा, डॉ. कीर्ति पटेल , डॉ. भूमिका तंतुवाय, डॉ. रानू जैन, डॉ. दीप्ति गुप्ता, डॉ. करनप्रीत, डॉ. पारुल और डॉ. रूपाली शामिल थीं। इनके साथ निश्चेतना विभाग की डॉ. प्रत्युषा तथा शिशु रोग विभाग के डॉ. रवि उइके का भी योगदान रहा।