मंत्री ने दे दी पूर्व PM मनमोहन सिंह को श्रद्धांजलि, BJP ने कहा- मांगें माफी

मंत्री हफीजुल हसन ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि एक दुखद खबर है, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह का निधन हो गया है।

मनमोहन सिंह

रांची, डेस्क रिपोर्ट। झारखंड सरकार (soren government) के पर्यटन और खेल मंत्री हाफिजुल हसन अंसारी (Hafizul Hasan Ansari) ने एम्स (AIIMS) में इलाज करा रहे पूर्व पीएम डॉ मनमोहन सिंह (Manmohan singh) को श्रद्धांजलि दी है। मंत्री हाफिजुल हसन ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए पूर्व पीएम (former PM) मनमोहन सिंह के निधन की बात कही और मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी। मंत्री अंसारी द्वारा पूर्व पीएम को श्रद्धांजलि देने पर मुख्य विपक्षी दल BJP ने तीखी प्रतिक्रिया दी है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद जयंत सिन्हा ने कहा कि जहां पूरा देश पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना कर रहा है। वहीं अस्पताल प्रबंधन के अनुसार उनके स्वास्थ्य में भी सुधार हो रहा है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस गठबंधन है। दुर्भाग्यपूर्ण है कि झारखंड सरकार के मंत्री मनमोहन सिंह के निधन पर शोक व्यक्त कर रहे हैं।

Read More: आखिर क्यों कांग्रेस के जिला अध्यक्ष ने उपचुनाव में निर्वाचन आयोग से “एटीएम” ही सील करने की कर डाली मांग

भाजपा ने हाफिजुल हसन से माफी की मांग की

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश और पूर्व मंत्री सह विधायक सीपी सिंह समेत अन्य नेताओं ने भी इस अभद्र बयान के लिए मंत्री हाफिजुल हसन अंसारी से माफी मांगने की मांग की है।

बैठक में हाफिजुल हसन ने कहा- पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का आज निधन हो गया

मंत्री हफीजुल हसन ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि एक दुखद खबर है, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह का निधन हो गया है। मनमोहन ने भारत को आगे ले जाने में अहम भूमिका निभाई है। आज आप भारत में जो प्रगति देख रहे हैं उसमें मनमोहन सिंह जी का बहुत बड़ा योगदान है। मंत्री का यह बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और वह ट्रोल हो रहे हैं।

एपीजे अब्दुल कलाम को भी जिंदा रहते हुए दी गई श्रद्धांजलि

ज्ञात हो कि इससे पहले भी झारखंड सरकार की पूर्व शिक्षा मंत्री और भाजपा नेता डॉ. नीरा यादव ने दिवंगत पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम को जीवित रहते हुए श्रद्धांजलि दी थी। जिसके बाद उन्होंने बिना देर किए माफी भी मांगी थी।