पूर्व BJP विधायक ने अपनी ही सरकार को घेरा, लगाए गंभीर आरोप

दमोह।गणेश अग्रवाल।
पथरिया से भारतीय जनता पार्टी के विधायक  रहे लखन पटेल ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को एक ज्ञापन सौंपते हुए जिले में चना खरीदी केंद्रों पर अधिकारियों द्वारा बरती गई लापरवाही के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।इस ज्ञापन में उन्होंने किसानों तथा सोसाइटी को राहत देने की बात भी कही है. वहीं अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है। मुख्यमंत्री को सौपे गए गए ज्ञापन में अपनी ही सरकार के मुलाजिमों पर पूर्व विधायक द्वारा गंभीर आरोप लगाए गए हैं।

पूर्व विधायक लखन पटेल द्वारा सौपे ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि चना खरीदी केंद्र द्वारा खरीदे गए चने का उठाव समय पर नहीं होने के कारण सोसाइटी का करीब 25000 क्विंटल चना एवं किसानों का करीब 5000 क्विंटल चना भीग गया है.

पूर्व विधायक ने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही के कारण परिवहन में भी करोड़ों रुपए व्यय हो रहा है. पथरिया के रुचि वेयरहाउस में खरीदा गया चना परिवहन करके तेंदूखेड़ा भेजा जा रहा है, तो वहीं तेंदूखेड़ा में खरीदा गया गेहूं दमोह में भेजा जा रहा है. हटा में खरीदा गया गेहूं दमोह एवं तेंदूखेड़ा भेजा जा रहा है. इसी प्रकार पथरिया का खरीदा गया गेहूं हटा एवं दमोह भेजा जा रहा है।

पूर्व विधायक लखन पटेल ने अपनी ही सरकार के नागरिक आपूर्ति निगम अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि इस तरह परिवहन कराकर सरकार को करोड़ों रुपए का चूना लगाया जा रहा है, तथा इसमें ठेकेदारों को लाभ पहुंचाया जा रहा है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलकर सौंपे ज्ञापन में पथरिया विधायक लखन पटेल के द्वारा अपनी ही सरकार को घेरकर उन अधिकारियों पर कार्रवाई करने की मांग की है, जो इस गोलमाल में लिप्त हैं. वही सहकारी समितियों एवं किसानों को राहत देने की बात उनका बचाव करते हुए कही गई है।