MP उपचुनाव: कांग्रेस का Tweet-14 दिन विधायक खरीदी केंद्र बंद, मैनेजर पॉजिटिव

नगरीय निकाय चुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट
चुनाव आयोग (Election commission) ने भले ही एमपी की 27 सीटों पर होने वाले उपचुनावों (BYE Election) की तारीखों का ऐलान नही किया हो लेकिन सियासी पारा हाई है। खास करके चुनावों से पहले विधायकों की खरीद-फरोख्त को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेजी से चल रहा है।एक करफ बीजेपी दावा कर रही है अभी और विधायक शामिल होंगे वही दूसरी तरफ सीएम शिवराज और प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा (CM Shivraj and State President VD Sharma) समेत कई मंत्रियों-विधायकों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर एमपी कांग्रेस ने तंज कसा है।कांग्रेस का कहना है कि विधायक खरीदी केंद्र 14 दिन बंद रहेगा। मैनेजर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

दरअसल, एमपी कांग्रेस (MP Congress) ने अपने ट्वीट पर एक ट्वीट किया है और विधायकों की खरीदी के बंद होने की बात कही है। एमपी कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा है कि विधायक खरीदी केंद्र 14 दिन बंद रहेगा, मैनेजर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं..!हालांकि यह पहला मौका नही है। इससे पहले भी कांग्रेस कई बार बीजेपी , शिवराज सरकार और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) को निशाने पर ले चुकी है।हाल ही में बीजेपी विधायक का एक ऑडियो वायरल हुआ था, जिसको लेकर भी कांग्रेस ने चुटकी ली थी और कहा था कि मप्र की केवलारी सीट से बीजेपी विधायक राकेश पाल का एक ऑडियो वायरल हो रहा है जिसमें वो बता रहे हैं कि 7 करोड़ रूपये खर्च करके विधायक बने हैं।शिवराज जी,बीजेपी नेताओं के पास इतना कालाधन कहाँ से आ रहा है..?इसके पहले भी कांग्रेस के कई ट्वीट सामने आ चुके है,जिसमें विधायकों की खरीद-फरोख्त को लेकर ट्वीट सामने आए थे।

बता दे कि हाल ही मेंएक के बाद एक तीन कांग्रेस विधायकों ने इस्तीफे दिए थे, जिसके बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस विधायकों की संख्या अब 89 रह गई है। लगातार विधायकों के इस्तीफे कांग्रेस को कमजोर और बीजेपी को मजबूत कर रहे है। हालांकि कमलनाथ और कई बडे नेता विधायकों को साधने में लगे हुए है, लेकिन इस्तीफों को देखकर तो ऐसा ही लगता है कि नतीजा कुछ निकल नही रहा। वहीं, वर्तमान में बीजेपी के पास 107 विधायक हैं। बीजेपी को सरकार में रहने के लिए अब सिर्फ 9 विधायकों की आवश्यकता है। अब ये 27 सीटों पर उपचुनाव ही तय करेंगे कि प्रदेश में किसकी सत्ता होगी औऱ किसके सिर जीत का ताज सजेगा।