भोपाल।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) के दो बड़े पदाधिकारियों को कोरोना (Corona) ने अपनी चपेट मे ले लिया है। दरअसल इनमें से एक इस समय मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के प्रान्त प्रचारक हैं और दूसरे प्रान्त प्रचारक रह चुके हैं ।बीजेपी ऑफिस (BJP 0ffice) के पास बने हुए आरएसएस मुख्यालय (RSS Headquarters) में कोरोना कैसे पहुंचा।इसकी ट्रैवल हिस्ट्री (Travel History) देखी जा रही है ।

फिलहाल दोनों पदाधिकारियों को आईसोलेट कर उनका इलाज शुरू किया गया है जहां उनकी स्थिति सामान्य है। दरअसल करोना जिस तरह से मध्यप्रदेश (MadhyPradesh) के अंदर रूक सा गया था लेकिन अचानक एक दौर और आया है जिसको लेकर अब कहीं ना कहीं एक बार फिर यह दिखने लगा है कि कोरोना का दौर थमा नहीं है। विशेषकर ग्वालियर चंबल संभाग (Gwalior Chambal Division) में तेजी के साथ कोरोना मरीज मिल रहे हैं ।ऐसे में मुख्यमंत्री का यह दावा कि कोरोना के संक्रमण पर भी नियंत्रण पाया गया है कहीं ना कहीं उस पर सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं। कांग्रेस पहले ही आरोप लगा चुकी है कि सरकार जानबूझकर कोरोना के टेस्ट ही नहीं कर रही जिसके कारण मरीजो का पता नहीं चल पा रहा है।