MP Corona Update: पूर्व मंत्री अजय विश्नोई ने लगवाया टीका, वैक्सीन के बाद केस में 80% की कमी

MP News

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूरे देश में जहां कोरोना वैक्सीन कोवैक्सिन (covaxin) को लेकर भ्रम की स्थिति उत्पन्न की गई थी। वहीं इस पर लगाम लगाते हुए मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अजय विश्नोई (ajay vishnoi) ने कोरोना का टीका लगवाया है। इसके साथ ही अजय विश्नोई प्रदेश के पहले ऐसे नेता हैं। जिन्होंने कोरोना का टीकाकरण करवाए हैं। वैक्सीन के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए उन्होंने यह टीकाकरण करवाया है।

दरअसल 10 महीने के बाद मध्य प्रदेश में कोरोना केस में कमी देखी जा रही है। पिछले 1 सप्ताह में प्रदेश के 40 जिलों में एक भी मौत नहीं हुई है। इसके साथ ही जनवरी माह में करीब 11000 नए मामले सामने आए हैं। इसी बीच कोरोना वैक्सीन के ऊपर लोगों का नजरिया बदलने और लोगों के बीच जागरूकता फैलाने के लिए पूर्व मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अजय विश्नोई ने कोरोना का टीका लगवाया है।

Read More: पंचायत चुनाव से पहले शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, निर्देश जारी

बता दें कि प्रदेश में हर दिन 16 हजार से ज्यादा कोरोना सैंपल लिए जा रहे हैं। इसके अलावा इंदौर जिले में कोरोना पर काफी हद तक लगाम लगा दी है। उज्जैन, रतलाम, रीवा, धार, होशंगाबाद, सतना, मुरैना, रायसेन, खंडवा, कटनी, हरदा, छतरपुर, अनूपपुर जैसे जिलों में पिछले 7 दिनों में एक भी संक्रमित की मौत नहीं हुई है। हालांकि राजधानी की बात करें तो भोपाल में स्थिति चिंताजनक है। पिछले 7 दिनों की बात की जाए तो हर 24 घंटे भोपाल में एक संक्रमित की मौत हो रही है। इसके अलावा ग्वालियर और खरगोन में भी स्थिति चिंताजनक है।

वहीं मध्यप्रदेश में कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण कुल 1200 सेंटरों पर लगाया जा रहा है। वही पहले चरण में फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स (frontline health workers) को वैक्सीन (vaccine) का पहला डोज दिया जाना है। इसके साथ मध्य प्रदेश में कोरोना वैक्सीन के 10 लाख डोज मिल चुके हैं। इंदौर की बात करें तो इंदौर में रजिस्टर्ड स्वास्थ्य कर्मियों के पहले चरण के टीकाकरण का शनिवार को आखरी दिन है। वहीं मध्यप्रदेश की बात करें तो मध्यप्रदेश में करीबन 53 लाख 7 हजार 95 लोगों की कोरोना जांच हो चुकी है। इसके साथ से 720 फिवर क्लीनिक प्रदेश भर में संचालित हो रहे हैं।