प्रदेश में जल्द शुरू होगी समर्थन मूल्य पर चना और मसूर की खरीदी

भोपाल| प्रदेश में जल्द ही समर्थन मूल्य पर चना एवं मसूर की खरीदी शुरू होगी| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंस (Video Confrence)के माध्यम से रबी उपार्जन कार्य की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को इस सम्बन्ध में निर्देश दिए| उन्होंने कहा गेहूँ उपार्जन कार्य तेजी से चल रहा है। खरीदी व्यवस्था के 9वें दिन 11 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूँ किसानों से खरीदा जा चुका है, जो गत वर्ष की तुलना में काफी अधिक है। इसके लिए पूरी टीम बधाई की पात्र है। उन्होंने कहा कि समर्थन मूल्य पर चना एवं मसूर खरीदी का कार्य शीघ्र प्रारंभ किया जाएगा। इसके बाद सरसों की खरीदी भी प्रारंभ होगी।

किसानों के खातों में पहुँचा गेहूँ उपार्जन का 11 करोड़
मुख्यमंत्री ने बताया कि गेहूँ उपार्जन का लगभग 11 करोड़ रूपया किसानों के खातों में पहुंच चुका है। साथ ही, लगभग 350 करोड़ रूपए की राशि बैंकों को भिजवा दी गई है, जो कि शीघ्र ही किसानों के खातों में पहुंच जाएगी। श्री चौहान मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से रबी उपार्जन कार्य की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस उपस्थित थे।

चना, मसूर एवं सरसों खरीदी की व्यवस्था
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि समर्थन मूल्य पर किसानों से चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी की भी शीघ्र व्यवस्था की जाए। अधिकारियों ने बताया कि चना एवं मसूर की खरीदी 28 अप्रैल से प्रारंभ की जा सकती है। उसके बाद शीघ्र ही सरसों की खरीदी भी शुरू की जा सकेगी।

बारदानों की व्यवस्था
बैठक में बताया गया कि जूट मिलों के बंद हो जाने से बारदानों की समस्या आ गई है परंतु सरकार द्वारा लिए गए निर्णय अनुसार पीपी बैग में ही गेहूँ की तरह चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी का कार्य किया जा सकेगा। इसके लिए ऑडर्र दे दिए गए हैं।