MP School: नए सत्र और परीक्षा को लेकर CM शिवराज ने दिए संकेत, जल्द होगा निर्णय

जुलाई के तीसरे सप्ताह से CBSE 12वीं की परीक्षा आयोजित की जा सकती है जो अगस्त के दूसरे सप्ताह तक चलेगी। ऐसी स्थिति में माना जा रहा है कि मध्य प्रदेश में जुलाई के दूसरे सप्ताह से 12वीं की परीक्षा आयोजित की जा सकती है।

mp school

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्यप्रदेश में अनलॉक (MP Unlock) की प्रक्रिया शुरू हो गई है। सरकार (MP Government) ने बाजार खोलने पर सहमति दे दी है। इसके साथ ही कोरोना कर्फ्यू (corona curfew) में ढील दिया गया है लेकिन परीक्षा (exam) और स्कूल खोलने (MP School) को लेकर अब तक कोई निर्णय नहीं हो पाया है। इतनी ही नहीं MP Board 12वीं की परीक्षा सहित अन्य प्रोफेशनल एग्जाम (professional exam) को लेकर भी राज्य शासन में कोई बड़ा फैसला नहीं लिया है। इस मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) का बड़ा बयान सामने आया है।

मध्यप्रदेश में MP Board 12वीं की परीक्षा सहित स्कूल खोलने (school reopen)  और प्रोफेशनल बोर्ड एग्जाम (professional board exam) को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश में कोरोना के घर से संक्रमण को देखते हुए अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की गई है। चरणबद्ध तरीके से प्रदेश को खोला जा रहा है लेकिन बच्चों के संबंध में भी निर्णय नहीं लिया गया है। बच्चों के संबंध में अलग से बात करूंगा। सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने कहा कि बच्चों की परीक्षा (exam) उनकी शिक्षा के लिए मंत्रियों के समूह बनाया गया है। मंत्रियों के समूह को उचित गाइडलाइन (guideline) के साथ बच्चों की शिक्षा तथा परीक्षाओं को लेकर व्यवस्था करने की बात कही गई है। इसके बारे में जल्दी चर्चा की जाएगी और बड़ा निर्णय लिया जाएगा।

बता दें कि मध्यप्रदेश में 12वीं की परीक्षा आयोजित होनी है लेकिन इससे पहले से CBSE 12वीं की परीक्षा तारीख को को लेकर इंतजार किया जा रहा है। माना जा रहा है कि CBSE की तर्ज पर ही 12वीं की परीक्षा आयोजित की जाएगी। अब ऐसी स्थिति में जब तक CBSE 12वीं की परीक्षा का ऐलान नहीं कर देते मध्यप्रदेश में 12वीं की परीक्षा को लेकर निर्णय संभव नहीं है।

CBSE 12वीं की परीक्षा जुलाई के तीसरे सप्ताह से?

वहीं सूत्रों की माने, जुलाई के तीसरे सप्ताह से CBSE 12वीं की परीक्षा आयोजित की जा सकती है जो अगस्त के दूसरे सप्ताह तक चलेगी। ऐसी स्थिति में माना जा रहा है कि मध्य प्रदेश में जुलाई के दूसरे सप्ताह से 12वीं की परीक्षा आयोजित की जा सकती है। इसके लिए जून के पहले सप्ताह में निर्णय लिया जाएगा।

MP School खोलने को लेकर फिलहाल संशय की स्थिति

वही मध्यप्रदेश में स्कूलों (MP School) को खोलने के लिए पक्ष में फिलहाल राज्य सरकार नजर नहीं आ रही है। राज्य सरकार कोरोना की तीसरी वेब (third wave) को लेकर सशंकित हैं। ऐसी स्थिति में बच्चों के नए सत्र की पढ़ाई अब व्हाट्सएप (whatsapp), रेडियो (radio) और दूरदर्शन (doordarshan) के माध्यम से कराई जाएगी। इसके लिए निर्णय लिया जा चुका है। ग्रीष्मकालीन अवकाश खत्म होते ही बच्चों की कक्षा एक बार फिर से शुरू की जाएगी।

बता दें कि वैज्ञानिकों ने कोरोना की तीसरी लहर की संभावना जताई है। वैज्ञानिकों के मुताबिक देश में एक बार फिर से करोड़ों की तीसरी लहर हानिकारक बनेगी। जिसका प्रभाव बच्चों पर पड़ेगा। अब ऐसी स्थिति में स्कूलों को खोलने को लेकर फिलहाल संशय की स्थिति बनी हुई है।