अपने काम से हमेशा जानी जाएंगी ये आईएएस

MP-alert-after-Surat-coaching-fire

भोपाल।
कोरोना संकट के बीच शिवराज सरकार द्वारा शुक्रवार को फिर 6 आईएएस अफसरों के तबादले किए गए थे।इसमें आईएएस कल्पना श्रीवास्तव का नाम भी शामिल है, जिन्हें भोपाल संभाग से कमिश्नर से हटाकर मंत्रालय में प्रमुख सचिव बनाया गया है। उनकी जगह भोपाल कमिश्नर कवींद्र कियावत को बनाया गया है।खास बात ये है कि कल्पना एकमात्र ऐसी कमिश्नर थी, जो प्रमुख सचिव स्तर की अधिकारी थी।

फिर चाहे कोरोना की जंग हो या फिर भोपाल को ग्रीन बनाने के लिए पौधे रोपने का अभियान। कल्पना हर समय सजग और अलर्ट रही। काम के प्रति उनकी ईमानदारी हमेशा चर्चा में रही।अपने कार्यकाल में उन्होंने शानदार परफॉर्मेंस दिया।कोरोना के कहर से लडऩे के लिए मंत्रालय से लेकर मैदान तक सरकारी अमला जान जोखिम में डालकर डटा है। संभाग व जिलास्तर के अफसर भी मॉनिटरिंग में लगे हैं।इसमें भोपाल में संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव भी दिन-रात जुटी रही, लोगों से सुरक्षित घरों में रहने की अपील करते रहे, कोरोना से डरने की बजाय लड़ने की ओर प्रेरित करते रहे।

कर्मचारियों को मोटिवेट किया

बीते साल जनवरी में भोपाल संभाग की पहली महिला संभाग आयुक्त बनने वाली कल्पना श्रीवास्तव ना सिर्फ शासन की योजनाओं का लाभ जन जन तक पहुंचाने का काम किया बल्कि महिलाओं के प्रति भी उन्होंने बखूबी जिम्मेदारियां निभाई।आयुक्त रहते हुए उनकी हमेशा कोशिश रहती कि अपने सहयोगी कर्मचारियों को मोटिवेट करने के लिए एक नया वर्क कल्चर लेकर आए।

1 साल में रोंपे 11 लाख से ज्यादा पौधे
अपने कार्यकाल में कल्पना ने भोपाल को ग्रीन बनाने में महत्वपूर्व योगदान दिया। उन्होंने एक साल में 11 लाख 25 हजार पौधे रोंपे। लोगों को पौधारोपण के लिए प्रेरित किया। महिलाओं और रहवासियों की ना सिर्फ शिकायते सुनी बल्कि उनका निराकरण भी किया।लॉक डाउन में भी सूखते पेड़ों को पानी पहुंचाया ।कस्तूरबा अस्पताल के सामने बरसों से फुटपाथ पर पड़े गरीब को इलाज करा कर वृद्ध आश्रम मैं आश्रय दिलाया ।

संगीत की है शौकिन
कल्पना हमेशा ऑफिशियल वर्क के बीच खुद को बैलेंस रखना बखूबी जानती है।वे खाली समय में गिटार और माउथ ऑर्गन बजाती है। इतना ही नहीं वह गाना भी गा लेती है और बीते दिनों क्लासिकल सिंगिंग भी सीख रही थी। खाली समय में बड़ी बेटी ऐश्वर्या द्वारा गिफ्ट किए गए Ukulele (चार स्ट्रिंग का छोटा गिटार) को बजाना भी कल्पना श्रीवास्तव के शौक में शामिल है।