MP Weather: उत्तर में हुई बर्फबारी से बढ़ेगी ठिठुरन, कुछ इलाकों में बारिश की संभावना

वहीं पचमढ़ी (Pachmarhi) और नौगांव में न्यूनतम तापमान घटकर 9 डिग्री तक पहुंच गया था। इसके अलावा खजुराहो में 9.5, दतिया (Datia) में 9.6, ग्वालियर (gwalior) में 9.5 और मंडला (mandla) में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड की गई है। वही मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि 3 दिसंबर तक मौसम इसी तरह बने रहने के आसार है।

MP Weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) में एक बार फिर से मौसम (weather) में बदलाव देखने को मिलेगा। प्रदेश के तापमान में गिरावट से हवा में ठिठुरन और कड़ाके की ठंड बढ़ेगी। वहीं मौसम विभाग ने ठण्ड को लेकर अल्टीमेटम (Ultimatum) जारी कर दिया। मौसम विभाग (weather department) के मुताबिक अगले 24 घंटे से उत्तर से ठंडी हवा चलने की संभावना जताई गई है। हिमाचल (Himanchal) की तरफ हो रही बर्फबारी का भी असर मध्य प्रदेश के तापमान (Temperature) में नजर आएगा।

दरअसल राजधानी भोपाल समेत मध्यप्रदेश में अब ठंड ने दस्तक दे दी है। वहीं “निवार” तूफान के कमजोर पड़ने के बाद भी इसका असर मध्य प्रदेश में देखा जा रहा है। जहां 18 से 20 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चल रही है। दूसरी तरफ राजस्थान में बनने वाले निम्न दबाव के चक्रवात भी अब समाप्ति की ओर है। जिसकी वजह से हवाओं का रुख भी उत्तर पूर्वी हो गया है। मौसम विभाग के मुताबिक हवाओं का प्रदेश में अधिकतम और न्यूनतम तापमान (Maximum and minimum temperature) की गिरावट में बड़ी भूमिका निभा रहा है।

मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो अगले दो-तीन दिन में तापमान में कुछ और गिरावट दर्ज की जाएगी। जहां भोपाल (bhopal) में रात का तापमान 9 डिग्री तक पहुंच सकता है। वही निवार चक्रवात की वजह से तापमान में गिरावट भी महसूस की गई थी। जिसके बाद फिर से 24 घंटे में पश्चिमी मध्य प्रदेश के मुरैना (muraina) सहित कुछ इलाकों में हल्की बारिश हुई है। मौसम विभाग का कहना है कि 29 नवंबर को एक और पश्चिमी विक्षोभ बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बना रहा है। जिसके कारण एक बार फिर से प्रदेश में दोबारा तापमान बढ़ने की संभावना बताई गई है। हालांकि तापमान 1 से 2 डिग्री तक ही बढ़ने की संभावना है।

Read More: MP Weather Update : मध्यप्रदेश के इन जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश के आसार

शुक्रवार को राजधानी भोपाल में तापमान 25.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। वहीं पचमढ़ी (Pachmarhi) और नौगांव में न्यूनतम तापमान घटकर 9 डिग्री तक पहुंच गया था। इसके अलावा खजुराहो में 9.5, दतिया (Datia) में 9.6, ग्वालियर (gwalior) में 9.5 और मंडला (mandla) में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड की गई है। वही मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि 3 दिसंबर तक मौसम इसी तरह बने रहने के आसार है। जिसके बाद बंगाल की खाड़ी में एक और चक्रवाती तूफान से मौसम में बदलाव देखा जा सकता है।

कुछ इलाकों में आज भी हो सकती है बारिश

इसके साथ ही मौसम वैज्ञानिकों ने प्रदेश के पश्चिमी कुछ हिस्सों में आज भी न्यूनतम तापमान में गिरावट के साथ हल्की बूंदाबांदी की आशंका जताई है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि दिन और रात के बारे में 10 डिग्री का अंतर बारिश के आसार पैदा करता है। वही कल मंडला में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस था। जो अबतक प्रदेश का सबसे ठंडा दिन रिकॉर्ड किया गया है।

इन इलाकों में हुई बारिश

पश्चिमी मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में हल्की बूंदाबांदी हुई है। इसके अलावा मध्यप्रदेश के बालाघाट, अनूपपुर सहित अमरकंटक और मंडला में भी हल्की बूंदाबांदी देखने को मिली। जिसके बाद न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here