MP Weather Update : मध्यप्रदेश में 22 नवंबर के बाद बारिश के आसार, बढ़ेगी ठंड

विभाग की माने तो शुक्रवार को पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ने के साथ ही प्रदेश में उत्तरी हवाओं का दखल बढ़ने की संभावना है। इससे सर्द हवाओं के कारण राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान में गिरावट होने लगेगी।

mp weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में दीवाली के बाद मौसम (MP Weather) के मिजाज बदले बदले नजर आ रहे है। कभी तापमान में उछाल आ रहा है, तो कभी गिरावट दर्ज की जा रही है। कोहरे और ठंड के असर के बीच बारिश और ओले भी अपना अलग रंग बिखेर रहे है। मौसम विभाग (Weather Department) की माने तो 22 नवम्बर (November) के बाद मौसम में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है।आने वाले दिनों में पश्चिमी मध्य प्रदेश में चक्रवात (Cyclone) बनने के कारण बादल और बारिश (Rain) की संभावना बन सकती है।

बुधवार को ग्वालियर, भोपाल, शाजापुर समेत कई जिलों में बारिश हुई। गुरुवार को भी दमोह में सात और सतना में तीन मिमी. बरसात दर्ज हुई। प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर अभी भी आंशिक बादल बने हुए हैं।मौसम विभाग की माने तो पश्चिमी विक्षोभ के चलते हवा में चक्रवात का एक बड़ा घेरा बना हुआ है, जिससे आसमान में बादल छाए रहेंगे , ऐसे में तापमान में गिरावट कम हो सकती है 22 नवम्बर को अरब सागर में बनने के बाद पश्चिमी मध्य प्रदेश में चक्रवात बन सकता है। ऐसे में फिर से बादल और बारिश की संभावना बनेगी।

विभाग की माने तो शुक्रवार को पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ने के साथ ही प्रदेश में उत्तरी हवाओं का दखल बढ़ने की संभावना है। इससे सर्द हवाओं के कारण राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान में गिरावट होने लगेगी।नवंबर के आखिर सप्ताह और दिसंबर के पहले सप्ताह में कोहरा बढ़ेगा और साथ ही ठंड में भी बढोत्तरी होगी।

इन जिलों में गरज चमक के साथ बौछार

रीवा, शहडोल, जबलपुर और होशंगाबाद संभागों के जिलों में और खंडवा जिले में।

हल्के से मध्यम कोहरे के आसार

ग्वालियर, चंबल, सागर, जबलपुर, शहडोल संभागों के जिलों में

पिछले चौबीस घंटे का बारिश का रिकॉर्ड

Rainfall dt 20.11.2020
(Past 24 hours)
Malanjkhand 28.8
Mandla 7.0
Betul 8.2
Seoni 3.4
Chindwara 0.5
Sidhi 2.4
Damoh 7.0
Jabalpur trace
Umaria 5.6
mm

MP Breaking News

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here