MPPEB: पुलिस आरक्षक और संविदा शिक्षक पात्रता परीक्षा के उम्मीदवारों को झटका, अटकी परीक्षा

प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड के चेयरमैन केके सिंह (PEB Chairman K K Singh) का कहना है कि जेल भर्ती परीक्षा में आधार वेरिफिकेशन यूआईडीएआई (UIDAI) के सर्वर पर किया गया था। अब से प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड जो भी परीक्षा आयोजित करेगा। उसमें एग्जाम इंजन सॉफ्टवेयर का आधार सर्वर से इंटीग्रेशन आवश्यक है।

MPPEB

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pardesh) में एक बार फिर पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा (Police constable recruitment exam) और संविदा शिक्षक पात्रता परीक्षा (Contractual teacher eligibility test) के अभ्यर्थियों को बड़ा झटका लगा है। दरअसल प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड (Professional exam board) की परीक्षा में नियम का पालन नहीं किया जा रहा है। इसके बाद पीईबी (PEB) ने 11 फरवरी को एग्जाम एजेंसी एनएसईआईटी (NSEIT) को नोटिस जारी किया है।

दरअसल प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड की परीक्षा में एग्जाम एजेंसी एनएसईआईटी मुंबई (NSEIT mumbai) द्वारा आधार वेरिफिकेशन (aadhar verification) नहीं किया जा रहा है। एग्जाम एजेंसी एनएसईआईटी (NSEIT) द्वारा औपचारिकता पूरी करने के लिए भर्ती परीक्षा के उम्मीदवारों का आधार वेरीफिकेशन लोकल सर्वे (local servey) पर किया जा रहा है। प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड द्वारा परीक्षा आयोजित करने वाली एजेंसी को परीक्षा इंजन सॉफ्टवेयर को आधार सर्वर से इंट्रीग्रेट करना है।

Read More: MP: विस बजट सत्र की तैयारियों पर सर्वदलीय बैठक आज, उपाध्यक्ष पद को लेकर होगी चर्चा

इस मामले के खुलासे के बाद प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड (PEB) में एग्जाम एजेंसी को नोटिस जारी किया। प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड में परीक्षा एजेंसी को सभी एग्जाम सेंटर पर एग्जाम इंजन सॉफ्टवेयर  और आधार सर्वर को एक साथ इंटीग्रेट करने और आईरिस स्कैनर (scanner) लगाने के निर्देश दिए हैं। इतना ही नहीं प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड में परीक्षा एजेंसी को निर्देश दिए हैं कि जब तक परीक्षा इंजन सर्वर से आधार का इंटीग्रेशन (integration) नहीं होता है। तब तक पुलिस आरक्षक भर्ती और संविदा शिक्षक पात्रता परीक्षा पर रोक लगाई जाती है। जिसके बाद प्रदेश के कुल 18 लाख उम्मीदवारों को बड़ा झटका लगा है।

परीक्षा एजेंसी के एमपी प्रोजेक्ट डायरेक्टर का कहना है आधार सर्वर से एग्जाम इंजन सॉफ्टवेयर कनेक्ट नहीं था। जिसकी जानकारी PEB को दी गई थी। प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड के निर्देश पर ही जेल भर्ती परीक्षा आयोजित की गई थी। प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड के चेयरमैन केके सिंह (PEB Chairman K K Singh) का कहना है कि जेल भर्ती परीक्षा में आधार वेरिफिकेशन यूआईडीएआई (UIDAI) के सर्वर पर किया गया था। अब से प्रोफेशनल एग्जाम बोर्ड जो भी परीक्षा आयोजित करेगा। उसमें एग्जाम इंजन सॉफ्टवेयर का आधार सर्वर से इंटीग्रेशन आवश्यक है। बता दें कि इससे पहले जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा में भी एग्जाम इंजन सॉफ्टवेयर को आधार से इंटीग्रेट नहीं किया गया था। जहां पीईबी नियमों का किया गया और साथ ही उम्मीदवारों वेरिफिकेशन भी नहीं किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here