10 हजार की रिश्वत लेते पकड़ाया नगर निगम अतिक्रमण दल का प्रभारी, लोकायुक्त ने किया गिरफ्तार

लोकायुक्त टीम ने आरोपी उमेश सोनी के कार्यालय पहुंचकर उसे 10 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया है।

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर लोकायुक्त पुलिस ने आज बड़ी कार्रवाई करते हुए नगर निगम पदस्थ अतिक्रमण शाखा प्रभारी उमेश सोनी और उसके दो कर्मचारियों को 10 हजार रुपय की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। दरअसल अतिक्रमण प्रभारी ने अवैध निर्माण तोड़ने की शिकायत को खत्म करने के लिए रिश्वत मांगी थी जिसकी शिकायत आवेदक ने लोकायुक्त पुलिस से की थी। वहीं लोकायुक्त टीम ने आरोपी उमेश सोनी के कार्यालय पहुंचकर उसे 10 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी देखें- मप्र उपचुनाव को लेकर कमलनाथ का मास्टर प्लान, इस आधार पर तय होंगे प्रत्याशी

खबर के मुताबिक, जबलपुर नगर निगम के अतिक्रमण शाखा प्रभारी उमेश सोनी के पास चेरीताल निवासी दुर्गेश चौधरी की शिकायत पहुँची थी कि उसने अपने घर का डेढ़ फ़ीट अवैध निर्माण बढ़ा रखा है। उसे तोड़ने की शिकायत जब उमेश सोनी के पास पहुंची तो उसने दुर्गेश चौधरी से 25 हजार रुपयों की रिश्वत मांगी। मोलभाव करने पर 10 हजार रुपये में फरियादी रिश्वत देने को राजी हो गया।

ये भी पढ़ें- हॉस्टल से गायब हुआ “शीरो”, परिवार के लोग ग़मज़दा, ढूंढ कर लाने वाले को मिलेगा इनाम

अवैध निर्माण को लेकर दुर्गेश चौधरी से मांगी गई रिश्वत की शिकायत उन्होंने जबलपुर लोकायुक्त एसपी अनिल विश्वकर्मा से की जिसके बाद आज लोकायुक्त की टीम ने योजनाबद्ध तरीके से अतिक्रमण दल प्रभारी उमेश सोनी को उसके ही कार्यालय में 10000 रु की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।