अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर निगम के अमले पर हमला, मारपीट, सड़क पर फेंका सामान

हंगामे के दौरान जब अतिक्रमण अमला जब्ती की कार्रवाई करने लगा तो फुटपाथ पर व्यापार करने वालों ने अपने ही हाथों से ठेले व अन्य दुकानों का सामान सड़कें पर फेंक दिया।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| राजधानी भोपाल (Bhopal) में अतिक्रमण (Encrochment) हटाने पहुंचे नगर निगम के अमले (Muncipal Corporation Team) और अतिक्रमणकारियों के बीच विवाद हो गया| दोनों पक्षों के बीच तीखी नोंकझोंक हुई, वहीं निगम के अमले पर फुटपाथ पर व्यापार करने वालों ने हमला कर दिया। इसमें प्रभारी अतिक्रमण अधिकारी नासिर खान समेत दो अन्य लोग चोटिल हुए हैं। हंगामे के दौरान जब अतिक्रमण अमला जब्ती की कार्रवाई करने लगा तो फुटपाथ पर व्यापार करने वालों ने अपने ही हाथों से ठेले व अन्य दुकानों का सामान सड़कें पर फेंक दिया।

दरअसल, रविवार को रायसेन रोड और जेके रोड पर नगर निगम का अतिक्रमण अमला सड़क पर लगी दुकानों और ठेले हटाने पहुंचा था| इस दौरान जमकर हंगामा हो गया, इस बीच कुछ व्यापारियों ने नगर निगम के अतिक्रमण अधिकारी नासिर खान से मारपीट भी कर दी। इतना ही नहीं दुकानदारों ने फल सड़क पर फेंक दिए। इससे बाद यहां पर ट्रैफिक जाम हो गया। अधिकारियों का कहना है कि बीते तीन दिनों से गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र में आने वाले जेके रोड व आरटीआइ रोड पर अतिक्रमण हटाने की चेतावनी दी जा रही थी। इसके बाद भी यहां लोगों ने अतिक्रमण नहीं हटाया। जिसके बाद यहां कार्रवाई की गई|

सड़क पर लगी दुकानों और ठेले हटाने निगम का अमला पहुंचा, व्यापारियों ने कार्रवाई का विरोध शुरू कर दिया| दोनों पक्षों के बीच तीखी नोंकझोंक शुरू हो गई और कुछ ही देर में प्रभारी अतिक्रमण अधिकारी नासिर नेको लोगों ने घेर लिया| उनके साथ मारपीट कर दी, जाते हुए अमले पर अतिक्रमणकारियों ने पथराव भी किया। विरोध में व्यापारियों ने सड़क पर ही फल फैलाना शुरू कर दिया। इससे रोड पर ट्रैफिक जाम हो गया और काफी देर तक हंगामा होता रहा।

अक्सर अतिक्रमण हटाने के दौरान अमले को विरोध का सामना करना पड़ता है, इसके पीछे कहीं न कहीं निगम की ही लापरवाही और मिली भगत सामने आती है| जब ठेले लगाने की छूट दे दी जाती है और कोई ध्यान नहीं दिया जाता| ऐसे में एक एक कर पूरा बाजार सड़क पर लगने लगता है, शहर के कई इलाकों में ऐसी तस्वीर देखी जा सकती है| जिसके कारण ट्रैफिक जाम की स्थिति रोजाना बनती है| फिर जब निगम दुकानदारों पर कार्रवाई करता है तो विरोध का सामना करना पड़ता है| एमपी नगर में गुमठियां हटाने के मामले में काफी विरोध देखा गया था|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here