CM की तारीफ करते हुए नारायण त्रिपाठी ने किया बड़ा दावा, BJP में खलबली

1804

भोपाल।

एक तरफ बीजेपी कांग्रेस के बागी विधायकों को अपनी ओर करने की जी तोड कोशिश में जुटी हुई है वही मैहर से बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी अपनी ही पार्टी की मुश्किलें बढाने में लगे हुए है। एक बार फिर नारायण त्रिपाठी ने बड़ा बयान देकर सियासी गलियारों और बीजेपी में खलबली मचा दी है। त्रिपाठी ने अपनी ही पार्टी पर कई गंभीर आरोप लगाए है।वहीं सीएम कमलनाथ के कामों की तारीफ करते हुए मध्य प्रदेश में सरकार बने रहने का दावा किया है।जबकी बीजेपी कमलनाथ सरकार को अल्पमत में बता रही है और कभी भी गिरने का दावा कर रही है, ऐसे में बीजेपी विधायक ने बागी तेवर दिखाकर अपनी ही पार्टी में हलचल पैदा कर दी है।त्रिपाठी के इस बयान से सियासी गलियारों में कई बयान निकाले जा रहे है।

आज मीडिया से चर्चा करते हुए त्रिपाठी ने कहा कि मैहर के विकास के लिए मुख्यमंत्री से चर्चा कर रहा हूं, मैहर को जिला बनाने की मांग है। मेरी राजनीति मैहर की जनता और मां शारदा के आशीर्वाद से चलती है, क्षेत्र के लिए विधायकी भी छोड़ चुका हूं।त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के कामों की तारीफ करतें हुए कहा कि अच्छा काम कर रहे हैं। पहले लाखों रुपए के बिल आते थे अब आ रहे हैं ₹100 के बिल। वर्तमान परिदृश्य में राजनीति में सिद्धांत कहीं नहीं।मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी 3 दिन में चौथी बार कमलनाथ से मिले। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार को कोई खतरा नहीं है। कांग्रेस के पास पूर्ण बहुमत है।

इससे पहले सोमवार को नारायण ने कहा था कि अभी मैं नहीं बता सकता मैं किसके साथ हूँ, वक्त आने पर स्पष्ट हो जाएगा, इंतज़ार कीजिये। मुझे कोई भी बंधक नहीं बना सकता। मेरी मां का देहांत हो गया है। मैं अभी राजनीति के बारे में नहीं सोच रहा हूं। मैं यहां आता हूं तो सबसे मिलता हूं। मुझे लगेगा कि जो मेरे क्षेत्र के विकास के लिए काम करेगा। मैं उसके साथ ही जाऊंगा। इसके बाद बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने सीएम हाउस पहुंचकर स्पीकर का धन्यवाद किया था और कहा था कि स्पीकर ने कोरोना वायरस जैसे गंभीर बीमारी को समझा।

वर्तमान घटनाक्रम को देखते हुए त्रिपाठी के इस बयान के कई सियासी मायने निकाले जा रहे है। ऐसा बयान देकर उन्होंने आसामंजस की स्थिति पैदा कर दी है कि वे बीजेपी के साथ है या नही। चुंकी बीते साल सदन में त्रिपाठी ने बीजेपी को झटका देते हुए क्रॉस वोटिंग कर दी थी। अब भी इस बात की चर्चा है कि त्रिपाठी बीजेपी से बगावत कर क्रॉस वोटिंग कर सकते है।हाल ही में वे मुख्यमंत्री निवास पर सीएम कमलनाथ से मिलने भी पहुंचे थे।वही रविवार को सीएम कमलनाथ ने कहा था कि 6 -8 बीजेपी विधायक उनके संपर्क में है और उनके पक्ष में वोटिंग करेंगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here