PC में विपक्ष पर आक्रामक हुए नरोत्तम, कहा- CM की तत्परता ने इंदौर को वुहान बनने से बचाया

इंदौर। आकाश धोलपुरे

प्रदेश के स्वास्थ्य एवं गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा गुरुवार को इंदौर पहुंचे। कोरोना संक्रमण काल में लॉकडाउन के बाद आज पहली बार स्वास्थ्य मंत्री इंदौर पहुंचे। उन्होंने सीधे इंदौर स्थित अरविंदो अस्पताल का रुख किया और कोरोना संक्रमण को लेकर स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया और उसके बाद एक पत्रकार वार्ता को भी संबोधित किया। मध्य प्रदेश की कैबिनेट मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कोरोना संक्रमण को लेकर मध्य प्रदेश की सरकार पर लगातार हमला बोल रही पूर्व की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह संक्रमण फैलने की शुरुआत तत्कालीन कांग्रेस सरकार के समय हुई है।

उन्होंने तत्कालीन सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में कोरोना फैलने से नही रोक पाई। उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी सरकार में इंटेलिजेंस फैलियर के कारण यह संक्रमण बड़ा है क्योंकि सरकार को आईफा अवार्ड को लेकर ज्यादा चिंता थी और कोरोनावायरस की परवाह नहीं थी। उन्होंने मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार की तारीफ की और उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने कुर्सी संभालते ही सबसे पहले कोरोना संक्रमण को लेकर सक्रियता दिखाई इसका परिणाम आपके सामने हैं। इधर, प्रदेश के मंत्री तुलसी सिलावट ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी में संगठन चुनाव लड़ता है और उपचुनाव में हम प्रदेश की 24 सीटो पर जीत हासिल करेंगे। इधर, मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी कहा कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार अपने वादे पूरे नही कर पा रही थी इसलिए सिलावट और अन्य विधायक बीजेपी में आये।

उन्होंने प्रदेश के कांग्रेसियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वे कहते थे कि इंदौर चीन के वुहान जैसा हो जाएगा लेकिन मुख्यमंत्री की तत्परता के कारण आज हालात आपके सामने हैं उन्होंने मध्यप्रदेश की तुलना दिल्ली और मुंबई से की है और उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की स्थिति बेहतर है यहां मरीजों के ठीक होने का ग्राफ 74% तक पहुंच गया है। उन्होंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की तारीफ करते हुए कहा कि शिवराज सिंह चौहान जब से मुख्यमंत्री बने हैं उन्होंने लगातार प्रतिदिन कोरोना संक्रमण को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की है उन्होंने यह भी कहा कि हमने स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देशित किया है कि कोरोना संक्रमित मरीजों की जांच अब 24 घंटे में उपलब्ध होना चाहिए

उन्होंने मध्यप्रदेश कोरोनावायरस संक्रमण को लेकर कहा एक ही पूरे प्रदेश में 2574 पेशेंट ही अपना इलाज करा रहे हैं जबकि सरकार ने अपने अस्पतालों में 20,000 से अधिक लोगों के इलाज की व्यवस्था अस्पतालों में कर रखी है। पत्रकारों ने जब उनसे पेट्रोल डीजल के दामों के संबंध में पूछा तो उन्होंने कहा कि पूर्व की कांग्रेस सरकार मैं अपने घोषणा पत्र में लिखा था कि जनता उन्हें जीत आती है तो वह पेट्रोल डीजल पर 5 कम कर देंगे लेकिन कम करने के बजाय उन्होंने बढ़ा दिए। उन्होंने कांग्रेसियों पर निशाना साधते हुए कहा कि जिनके घर शीशे के होते हैं वह दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंकते हैं। उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार ने बड़े हुई पेट्रोल-डीजल दामों की राशि को आइफा अवॉर्ड और सलमान खान और जैकलीन फर्नांडिज पर खर्च किया था। हमारे मुख्यमंत्री इस राशि का उपयोग गरीब किसान और कोरोनावायरस लोगों के इलाज के लिए खर्च कर रहे हैं।