MP Politics : नरोत्तम मिश्रा का तंज- मैं कमलनाथ थोड़ी हूं, जो माफी नही मांगूंगा

नरोत्तम मिश्रा ( Narottam Mishra) ने कहा कि नवदुर्गा के पावन पर्व पर नारी शक्ति का अपमान जनता नही सहन करेगी ,कांग्रेस चाहती है कि कमलनाथ (Kamal Nath) की असफलता छुपी रहे।

narottam mishra

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former Chief Minister Kamal Nath) के शिवराज सरकार  में महिला बाल विकास मंत्री और डबरा (Dabra) से BJP प्रत्याशी इमरती देवी (BJP candidate Imrati Devi) पर की गई टिप्पणी पर बवाल थमने का नाम नही ले रहा है। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) के बयान पर कमलनाथ के जवाब के बाद विवाद ने नया मोड़ ले लिया है। राहुल गांधी और कमलनाथ के रिएक्शन के बाद अब कांग्रेस में अंतर्कहर और फूट को लेकर सवाल खड़े होने लगे है जिसे BJP जोरों शोरों से भुनाने में जुटी है।इसी कड़ी में अब  मध्यप्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Dr. Narottam Mishra) का बड़ा बयान सामने आया है।

आज पुलिस स्मृति दिवस (Police Memorial Day के मौके पर मीडिया से चर्चा के दौरान कमलनाथ के इमरती देवी से माफी ना मांगने को लेकर नरोत्तम मिश्रा ( Narottam Mishra) ने कहा कि नवदुर्गा के पावन पर्व पर नारी शक्ति का अपमान जनता नही सहन करेगी ,कांग्रेस चाहती है कि कमलनाथ (Kamal Nath) की असफलता छुपी रहे। वही शिवराज सरकार (Shivraj Government) में मंत्री और अनूपपुर विधानसभा सीट (Anuppur Assembly Seat) से बीजेपी प्रत्याशी बिसाहूलाल सिंह (BJP candidate Bisahulal Singh) की गलती पर स्वयं के माफ़ी मांगने को लेकर कहा कि हां मैंने संसदीय मंत्री होने के नाते माफी मांगी है, मैं कोई कमलनाथ थोड़ी हूं जो माफ़ी नही मांगूगा ।

नरोत्तम ने कहा कि कांग्रेस में कमलनाथ जी जिस तरह से लगातार पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की उपेक्षा कर रहे हैं, इससे अब उनकी विदाई तय मानिए। जल्द ही प्रदेश कांग्रेस में नेतृत्व के लिए नई जंग छिड़ने वाली है। कांग्रेस का सूर्य अब अस्ताचल की ओर है।अब तो दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) जी भी इशारों ही इशारों में कमलनाथ को विदाई का संकेत देने लगे हैं। लेकिन अभी कमलनाथ जी समझ नहीं पा रहे हैं। आने वाली 04 तारीख को वो भी समझ जाएंगे।

नरोत्तम यही नही रुके और आगे कहा कि कांग्रेस (congress) में दो तरह के लोग है, एक बुजुर्ग और दूसरे प्रौढ़ लोग है जिसमे राहुल गांधी कमलनाथ शामिल है। कमलनाथ, राहुल गांधी को लंबे समय से अनदेखा कर रहे है, शायद उम्र हावी हो रही है, इसलिए ये हो रहा है ।इसके कई उदाहरण है,  पहला कर्ज माफी का कहा लेकिन कर्ज माफी नही किया, दूसरा लोकसभा में कमलनाथ सिर्फ नकुल नाथ को जिताने में लगे रहे , तीसरा  कमलनाथ ने वचन पत्र से राहुल की तस्वीर ही हटा दी और अब चौथी बार यह हुआ है कि उनके बयान पर भी माफी मांगने से इंकार कर दिया।आगे कहा कि चुनाव हो जाने दीजिए,  चार तारीख का चार्टर बुक होगा । उपचुनाव (By-election) खत्म होते ही कमलनाथ का दिल्ली जाना तय है । परिणाम जो भी हो ,कुछ दिनों में कांग्रेस की खेमे बाजी दिखने वाली है ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here