NEET-JEE Exam: परीक्षा को लेकर सरकार की तैयारी पूरी, संक्रमण को देखते हुए बरती जा रही विशेष सावधानी

जबलपुर, संदीप कुमार। देश भर में कोरोना महामारी के लगातार बढ़ते प्रकोप के बीच आज से इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए जेईई की परीक्षाएं शुरू हो रही हैं।कोरोना संक्रमण काल के बीच सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी के बाद हो रहे इस एग्जाम में देशभर से लाखों छात्र परीक्षा में बैठेंगे। जिसे लेकर मध्यप्रदेश सरकार ने भी अपनी तैयारी पूरी कर ली है। इसी कड़ी में मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले में जेईई की परीक्षा के लिए ग्लोबल कॉलेज को एग्जाम सेंटर बनाया गया है. जहां 1 सितंबर से लेकर 6 सितंबर तक अलग-अलग पाली में एग्जाम होंगे।

कोरोना संक्रमण के चलते परीक्षा में विशेष सावधानी बरती जा रही है दो स्टेज की थर्मल स्कैनिंग के बाद छात्रों को प्रवेश दिया जा रहा है। कंसलटिंग एजेंसी परीक्षार्थियों को अलग से मास्क उपलब्ध कराएगी। वहीं अगर कोई छात्र थर्मल स्कैनर में संदिग्ध पाया जाता है तो उसके लिए अलग से आइसोलेशन एग्जाम सेंटर बनाया गया है। जबलपुर जिले में कुल 6 हजार 191 छात्र इस परीक्षा में बैठेंगे। वहीं प्रदेश सरकार के निर्देश पर छात्रों के लिए मुफ्त परिवहन की सुविधा भी मुहैया कराई गई है. जबलपुर कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारी को नोडल अधिकारी के रूप में नियुक्त किया है. करोना के संकटकाल में ये दूसरी परीक्षा है, इसके पहले 12वीं के रुके हुए पेपर भी राज्य सरकार ने लिए थे।