दिल्ली : तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के खिलाफ जारी हुआ नया गिरफ्तारी वारंट

मोहाली कोर्ट से नया गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद, अब पंजाब पुलिस किसी भी समय बग्गा को गिरफ्तार करने के लिए दिल्ली रवाना हो सकती है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। दो दिन से चल रहे तेजिंदर पाल सिंह बग्गा गिरफ्तारी मामले में अभी भी घमसान जारी है। बग्गा के खिलाफ मोहाली कोर्ट ने नया गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। मोहाली कोर्ट ने पंजाब पुलिस की साइबर क्राइम ब्रांच को आदेश देते हुए कहा है कि तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जाए।

जानकारी के मुताबिक, पंजाब के मोहाली कोर्ट ने शनिवार (7 मई) को बीजेपी कार्यकर्ता बग्गा के खिलाफ नया गिरफ्तारी वारंट जारी किया है, जहां बग्गा के खिलाफ साहिबजादा अजीत सिंह नगर के क्रिमिनल कोर्ट के नायियक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी की अदालत ने अरेस्ट वारंट जारी किया।

बता दे बग्गा के खिलाफ पंजाब पुलिस की क्राइम ब्रांच ने आईपीसी की धारा 153 A, 505, 505 (2) और 506 के तहत मामला दर्ज किया था।

मोहाली कोर्ट से नया गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद, अब पंजाब पुलिस किसी भी समय बग्गा को गिरफ्तार करने के लिए दिल्ली रवाना हो सकती है।

आपको बता दे, इससे पहले भी 6 मई को पंजाब पुलिस ने तजिंदर पाल सिंह बग्गा को जनकपुरी स्थित उनके निवास से गिरफ्तार किया था लेकिन जब पंजाब पुलिस उन्हें पेशी के लिए मोहाली ले जा रही थी तभी कुरुक्षेत्र के पास हरियाणा पुलिस में उसे रोक लिया। इसके बाद मामला तीन राज्यों- दिल्ली, हरियाणा और पंजाब की पुलिस के बीच उलझ गया और 7 घंटे तक चले इस हाई-वोल्टेज ड्रामे के बाद हरियाणा पुलिस ने बग्गा को दिल्ली पुलिस के सुपुर्द कर दिया था।

बग्गा ने केजरीवाल के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन

इसके बाद बग्गा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी किया, जिसमें उनके साथ पार्टी के सिख विंग कार्यकर्ता भी थे। विरोध प्रदर्शन के दौरान दिल्ली भाजपा सिख प्रकोष्ठ और भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल के निवास के बाहर जोरदार नारेबाजी की। भाजपाई कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने दिल्ली और पंजाब में सत्ता आने के बाद इसका दुरुपयोग किया है। पंजाब पुलिस द्वारा तेजिंदर बग्गा की बिना पगड़ी गिरफ्तारी को लेकर भी कार्यकर्ताओं ने अपना गुस्सा व्यक्त किया।

टल चुकी है हाई कोर्ट में सुनवाई

इससे पहले बग्गा की गिरफ्तारी मामले को लेकर पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट में दाखिल याचिका पर सुनवाई टल गई थी। कोर्ट अब इस मामले में 10 मई को सुनवाई करेगा। शुक्रवार से चले इस हाई-पॉलिटकल ड्रामे ने अब तक कई बार करवट बदली और अब तीन राज्यों की पुलिस कटघरे में खड़ी हो गई है।

ये है पूरा मामला

बता दे तेजिंदर ने ‘द कश्मीर फाइल्स ‘ फिल्म पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की टिप्पणी के बाद उन पर निशाना साधते हुए कश्मीरी पंडित विरोधी बताया था। जिसके बाद उन पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने केजरीवाल के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया और समाज को धर्म और जाति के आधार पर बांटने की कोशिश की है।

इसके बाद बग्गा के खिलाफ पंजाब में मोहाली पुलिस ने तेजिंदर के खिलाफ साइबर सेल में FIR दर्ज की गई थी। बग्गा के खिलाफ अपराधिक मामला आम आदमी पार्टी के नेता डॉक्टर सनी सिंह की शिकायत के आधार पर दर्ज किया गया था।