रुपए मांगने वाली दो स्टाफ नर्सों को नोटिस, दो सफाई कर्मचारी को हटाया

सिविल सर्जन डॉ शर्मा ने बताया कि इस तरह की शिकायतों को गंभीरता से लिया जाएगा कर्मचारियों की लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

सीहोर, अनुराग शर्मा। जिला चिकित्सालय के मात् एवं शिशु स्वास्थ्य केंद्र में स्टॉप नर्स एवं अन्य कर्मचारी द्वारा रुपए मांगने के मामले आए दिन होते हैं। लेकिन 2 दिन पहले एक प्रसूता से 800 रुपय मांगना मैं भारी पड़ गया। दरअसल पृसूता के परिजनों ने इसकी शिकायत सिविल सर्जन से कर दी। सिविल सर्जन ने तुरंत मामले को गंभीरता से लेते हुए 2 सफाई कर्मचारियों को काम से हटा दिया जबकि दो नर्सों को कारण बताओ नोटिस(Notice) जारी किया है।

यही नहीं एक आया की एक वेतन वृद्धि रोकने के आदेश दिए हैं। बता दें कि 2 दिन पहले सिविल सर्जन डॉ आनंद शर्मा से एक प्रसूता के परिजनों ने शिकायत की डिलीवरी करवाने के उन से वार्ड में 800 मांगे जा रहे हैं। सिविल सर्जन ने इस मामले में प्रसूता के परिजनों के बयान के आधार पर वार्ड में काम करने वाली सफाई कर्मचारी पूजा और प्रिया को तत्काल काम से हटा दिया। इसके साथ ही रात के समय ड्यूटी नर्स और एक अन्य कर्मचारी निधि व निशा को कारण बताओ नोटिस दिया है। इसके साथ ही आया उषा बाई की एक वेतन वृद्धि रोकने का आदेश जारी किया है। सिविल सर्जन डॉ शर्मा ने बताया कि इस तरह की शिकायतों को गंभीरता से लिया जाएगा कर्मचारियों की लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here