कटनी।वंदना तिवारी।

बांधवगढ़ स्थित रिजार्ट पर कार्रवाई करने के बाद अब उमरिया(umaria) जिला प्रशासन ने रिसोर्ट के पीछे बने बीजेपी विधायक(bjp mla) संजय पाठक(sanjay pathak) के फार्म हाउस(farm house) को निशाना बनाया है। इस दौरान यहां कलेक्टर स्वरुचि सोमवंशी वहां खुद मौजूद रहीं। लगभग 2 एकड़ एरिया में अतिक्रमण की जानकारी सामने आ रही है। प्रशासन का आरोप है कि यह भी सरकारी जमीन पर बनाया गया है और इसे बाकायदा 7 दिन का नोटिस दिया गया था लेकिन संजय पाठक का आरोप है कि उन्होंने अपील के लिए आवेदन दिया था जो स्वीकार नहीं किया और प्रशासन ने एकतरफा कार्रवाई करके उनका फार्म हाउस उजाड़ दिया।

इससे पहले आज शनिवार सुबह बांधवगढ़ स्थित  रिसोर्ट को अतिक्रमण के नाम पर तुड़वा दिया है।पाठक ने इस कार्रवाई को बदले की भावना करार दिया है।खास बात ये है कि यह रिसोर्ट 12 साल पुराना है और उनके स्वर्गीय पिता ने इसे बनवाया था ।इस रिसोर्ट में कई बार कांग्रेस(congress) और बीजेपी (bjp)के वरिष्ठ नेता रुक चुके हैं।

इसके पहले जबलपुर उनकी दो खदानों को कलेक्टर(collector) ने पुनः बंद करने के आदेश दिए थे।  ये खदाने मेसर्स निर्मला मिनरल्स के नाम से सिहोरा तहसील के ग्राम अगरिया और दुबियारा में हैं। इसको लेकर पाठक ने सरकार पर विपक्ष में रहने की सजा के तहत कार्रवाई के आरोप भी लगाए थे। इसके बाद शुक्रवार सुबह उन्होंने ट्वीट कर सरकार पर गंभीर आरोप लगाए थे।पाठक ने  कहा था कि जिस तरह से सरकार मेरे खिलाफ काम कर रही है उससे मेरी हत्या भी हो सकती है। अपने फायदे के लिए यह लोग मेरी हत्या भी करा सकते हैं, मेरे खिलाफ कार्रवाई तो शुरू हो ही गई है।अभी इस ट्वीट (twitter)को चौबीस घंटे भी नही बीते की उनका 12 साल पुराना रिसोर्ट और खेत को उजाड़ दिया गया।

बता दे कि बीते दिनों दिग्विजय सिंह(digvijay singh) उन पर सरकार गिराने में शामिल होने के आरोप लगा चुके हैं।हालांकि उन्होंने इस सभी आरोपों का खंडन किया है।

संजय पाठक को एक और झटका, अब फार्म हाउस पर चला बुलडोजर संजय पाठक को एक और झटका, अब फार्म हाउस पर चला बुलडोजर