अब MP के इस शहर में बर्ड फ्लू का साया,दो स्थानों पर मृत मिले कौओं से मचा हड़कंप

जांच के बाद तय हो पाएगा इनकी मौत किस वजह से हुई है। और अगर बर्ड फ्लू की वजह से इन कौओं की मौत होने पाया जाता हैं तो  स्ट्रेन लेवल देखा जाएगा कि वह किस स्तर का है। उसी प्रोटोकॉल के तहत आगे के कार्यक्रम किए जाएंगे

अशोकनगर, हितेंद्र बुधौलिया। देश के कई राज्यों सहित मध्यप्रदेश (Madhy Pradesh) के कई शहरों में चल रही बर्ड फ्लू (Bird Flu) के खतरे की दहशत अशोकनगर (Ashoknagar) भी पहुँच गई है। आज सुबह अशोकनगर के मुक्तिधाम क्षेत्र में अचानक 5 कौओं (Crows) के मृत मिलने के बाद लोगों में हड़कंप मच गया मुक्तिधाम में कौओं (Crows)की मौत पर प्रशासन चिंतन कर ही रहा था कि नेहरू डिग्री कॉलेज (Nehru Degree College) परिसर में लगभग दर्जनभर कौओं (Crows)की खबर बाहर आई  पाए गए हैं। कॉलेज के कर्मचारियों का कहना है कि आज सुबह से कौए (Crows) पेड़ों से नीचे गिर रहे हैं और उनकी मौत हो रही है। सूचना के बाद पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारी कर्मचारी यहां पहुंचे हैं और मृत कौओं को जमीन में दफना दिया है। दो स्थानों पर करीब डेढ़ दर्जन कौओं (Crows)की मौत के बाद जिले में हड़कंप मच गया है।

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के अन्य शहरों की तरह ही अशोकनगर में कौओं (Crows) की मौत ने जिला प्रशासन की चिंता बढ़ा दी  है। कलेक्टर ने अधिकारियों से एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं।  उधर पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों का कहना है कि सामान्य तौर पर पशु पक्षियों की मौत के बाद उनका पोस्टमार्टम स्थानीय स्तर पर किया जाता है मगर बर्ड फ्लू (Bird Flu) के संभावित खतरे को देखकर इन मृत कौओं (Crows) का यहां पोस्टमार्टम ना कर इनके मृत शरीर जांच  के लिए भोपाल भेजे जा रहे हैं

अधिकारियों का कहना है कि जांच के बाद तय हो पाएगा इनकी (Crows) मौत किस वजह से हुई है। और अगर बर्ड फ्लू (Bird Flu) की वजह से इन कौओं (Crows) की मौत होने पाया जाता हैं तो  स्ट्रेन लेवल देखा जाएगा कि वह किस स्तर का है। उसी प्रोटोकॉल के तहत आगे के कार्यक्रम किए जाएंगे। चिकित्सा अधिकारियों का कहना है  कि बर्ड फ्लू कौओं (Crows)से  कौओं (Crows) या दूसरे पशु पक्षियों  में हो सकता है। साथ ही मनुष्यों में भी इसका संक्रमण होगा या नहीं यह जांच के बाद पता चलेगा है। मगर इस बीच अचानक एक के बाद एक पांच कौओं(Crows) के मृत होने के कारण शहर में बर्ड फ्लू  का खतरा बन गया है जिनको लेकर पशु चिकित्सा विभाग सतर्क हो गया है।

उल्लेखनीय है कि देश और प्रदेश भर में चल रहा बर्ड फ्लू के खतरे के बीच अब अशोकनगर में भी संभावित बड़े खतरे की आहट शुरू हो गई है। आज सुबह अशोकनगर के मुक्तिधाम क्षेत्र में अचानक पांच कौए  (Crows)मृत मिले थे जिन्हें जांच के लिए हाई सिक्योरिटी लैब भोपाल भेजा गया है। इसी के बाद  स्थानीय नेहरू डिग्री कॉलेज के प्रांगण में लगभग दर्जनभर कौओं (Crows) की मौत होने से हड़कंप सा मच गया है।

नगर पालिका, वन विभाग सहित पशु चिकित्सालय की टीम ने पहुंचकर नेहरू डिग्री कॉलेज के परिसर में कौओं को एकत्रित कर डेढ़ फुट गड्ढे में डंप करवाया है। डॉ आरके तिवारी का कहना है कि सुबह मुक्तिधाम में पांच कौए मिले थे वही नेहरू डिग्री कॉलेज परिसर में लगभग 1 दर्जन से अधिक कौए मृत पाए गए हैं। जिन्हें गड्ढे में डंप करवाया जा रहा है साथ ही उन्होंने शहर के लोगों से अपील की है कि अगर आसपास कहीं भी कौए मरे मिलें तो संबंधित विभाग को सूचित करें और उनके पास ना जाएं जिससे इस वायरस से बचा जा सके।